शनिवार शाम तक प्रदेश में दस्तक दे सकता है पश्चिमी विक्षोभ, बदलेगा मौसम का मिजाज

mausam update

प्रदेश में जहां एक ओर पारा चढ़ने से मैदानी इलाकों में गर्मी लोगों को बेहाल कर रही है तो वहीं पहाड़ी इलाकों में मौसम ठीक हो गया है। लेकिन आज एक बार फिर प्रदेश में मौसम करवट बदल सकता है। जिस से पहाड़ी इलाकों में बारिश और ओलावृष्टि की संभावना है।

मैदानी इलाकों में पारा चढ़ने से लोग बेहाल

पिछले एक हफ्ते से प्रदेश में मौसम शुष्क बना हुआ है। जिससे मैदानी इलाकों में पारा तेजी से चढ़ रहा है। मैदानी इलाकों में लोगों को सूरज की तपिश बेहाल करने लगी है। इसके साथ ही गर्म हवा के थपेड़े दुश्वारी बढ़ा रहे हैं। प्रदेश के ज्यादातर मैदानी क्षेत्रों में अधिकतम तापमान 37 डिग्री सेल्सियस के करीब पहुंच गया है।

पहाड़ों पर बदलेगा मौसम का मिजाज

जहां एक ओर मैदानी इलाकों में गर्मी से लोग बेहाल हो रहे हैं तो वहीं आज प्रदेश के पहाड़ी इलाकों में मौसम का मिजाज बदल सकता है। मौसम विभाग के मुताबिक प्रदेश के पर्वतीय इलाकों में कहीं-कहीं गरज-चमक के साथ बौछारें और ओलावृष्टि हो सकती है। पर्वतीय इलाकों में 13 से 17 मई तक बारिश की संभावना है।

पहाड़ों के लिए येलो अलर्ट जारी

प्रदेश के पहाड़ी इलाकों के लिए मौसम विभाग ने बारिश और ओलावृष्टि के लिए यलो अलर्ट जारी किया गया है। पहाड़ी इलाकों में गरज-चमक के साथ बारिश होने की संभावना है। इसके साथ ही किन्हीं-किन्हीं इलाकों में बारिश के साथ ही ओलावृष्टि होने की भी संभीवना जताई गई है। मैदानी इलाकों में मौसम शुष्क बना हुआ है लेकिन पहाड़ी इलाकों में अब भी आंशिक बादल मंडरा रहे हैं।

पश्चिमी विक्षोभ शनिवार शाम तक दे सकता है दस्तक

प्रदेश में शनिवार शाम तक पश्चिमी विक्षोभ दस्तक देने के आसार हैं। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ तक उत्तराखंड में दस्तक दे सकता है। जिसके चलते रुद्रप्रयाग, पिथौरागढ़, उत्तरकाशी, चमोली और बागेश्वर में ऊंचाई वाले क्षेत्रों में हल्की वर्षा-बर्फबारी हो सकती है।

इसके साथ ही कहीं-कहीं तेज हवाओं के साथ हल्की बौछारें भी पड़ सकती हैँ। जबकि प्रदेश के निचले इलाकों में गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ने की चेतावनी जारी की गई है।