पिथौरागढ़: मां के सामने सात साल की बच्ची को खिंच ले गया तेंदुआ, ऐसे बचाई जान

TENDUA

पिथौरागढ़ में मां के साथ खेत गई सात साल की बच्ची को तेंदुआ खिंच ले गया। तेंदुआ बच्ची पर झपट 100 मीटर दूर खिंच ले गया। मां और आसपास के लोगों के शोर मचाने पर तेंदुआ बच्ची को छोड़ भाग गया। बच्ची को उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है।

मां के सामने बच्ची को खिंच ले गया तेंदुआ

जाखनी उप्रेती गांव में कमल सिंह की बेटी शशिकला (7) गुरुवार शाम अपनी मां हेमा देवी के साथ घर के ही पास खेत में गई हुई थी। इस दौरान घात लगाए तेंदुए ने बच्ची पर हमला कर जबड़ों में दबाकर 100 मीटर दूर खिंच ले गया। हेमा देवी और आसपास के लोगों ने शोर मचाते पर तेंदुए का पीछा किया। तेंदुआ बच्ची को छोड़ भाग गया। आनन फानन में परिजन बच्ची को लेकर गंगोलीहाट सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुंचे।

क्षेत्रवासियों ने की क्षेत्र में पिंजरा लगाने की मांग

बच्ची के सिर, एक आंख, गले और पीठ पर तेंदुए के दांतो और पंजो के गहरे निशान हैं। तेंदुए के बच्ची पर हमले के बाद से क्षेत्र में दहशत का माहौल है। घटना के बाद क्षेत्रवासियों ने वन विभाग से क्षेत्र में पिंजरा लगाने की मांग की है। मिली जानकारी के मुताबिक रेंजर वन विभाग मनोज सनवाल ने वन विभाग की दो टीमें बनाई है।

पीड़ित परिवार को दी जाएगी राहत राशि

वन विभाग की एक टीम रात में गश्त करेगी और तेंदुए को भरी आबादी से दूर भगाने के लिए पटाखे फोड़े जाएंगे। इसके साथ ही दूसरी टीम घायल बच्ची की स्थिति देखने के लिए अस्पताल भेजी गई है। पीड़ित परिवार को राहत राशि भी दी जाएगी।