UP में आफत की बारिश! अब तक 16 की मौत, 100 से ज्यादा गाड़ियां डूबीं

Gurugram Rain 1

उत्तर प्रदेश में में पिछले दो दिनों से बारिश से मौसम का मिजाज बदला हुआ है. शुक्रवार यानि आज भी अहले सुबह से हल्की बारिश का दौर जारी रहा. बारिश से तापमान में जहां गिरावट दर्ज की गई, वहीं सड़कों पर जगह-जगह जलजमाव की समस्या ने लोगों की परेशानियां बढ़ा दीं. कई जिलों में दीवार गिरने की घटनाएं भी सामने आई हैं. बताया जा रहा है कि मलबे में दबने से 16 की मौत हो गई और 15 से ज्यादा लोग घायल बताए जा रहे हैं. नोएडा प्रशासन की ओर से बरसात को लेकर अलर्ट जारी कर दिया गया है. साथ ही 8 वीं तक स्कूलों को बंद करने का आदेश दिया है.

आईएमडी के अनुसार, अगले 4 दिनों तक ऐसे ही मौसम के आसार हैं. आकाश में बादल छाए रहेंगे और रुक-रुक कर बारिश होती रहेगी. बरसात की वजह से आज न्यूनतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस रहने के अनुमान हैं.

फिरोजाबाद में पार्किंग स्थलों पर जलजमाव

बारिश का सबसे ज्यादा कहर फिरोजाबाद में देखने को मिला है. पार्किंग स्थलों पर जलजमाव की वजह से 100 से ज्यादा गाड़ियां डूबी हुईं दिखीं. वहीं, कई कच्चे मकानों के दीवार ध्वस्त हो गए. दीवारों के मलबे में दबने से दो लोगों की मौत और 10 से ज्यादा लोग घायल हो गए. घायलों को इलाज के लिए नजदीकी अस्पताल में भेजा गया है.

वहीं, एटा में भी बारिश लोगों के लिए आफत बनकर आई. कुछ इलाकों में मकान गिरने से 15 से ज्यादा लोग घायल हो गए. बारिश के बीच, जगह-जगह आकाशिय बिजली गिरने की घटनाएं भी सामने आई हैं.

गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग बीते 36 घंटों से बंद

उत्तरकाशी में भी बारिश का दौर जारी है. गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग बीते 36 घंटों से बंद है. इस वजह से करीब 2000 यात्री फंसे हुए हैं. बीआरओ और जिला प्रशासन मार्ग खोलने में जुटा हुआ है.

पूर्वांचल में नदियां उफान पर हैं. गोरखपुर में नदियों के किनारे बसे गांवों के लोग बाढ़ की आशंका को लेकर चिंतित हैं. घाघरा नदी के किनारे बसे कुछ गांवों में पानी घुसा है. हालांकि, अभी नदी का पानी तेजी से नहीं बढ़ रहा है. वहीं, जिला प्रशासन अलर्ट मोड में है.