pm kisan yojna 13th

PM Kisan Yojana: किसान को आर्थिक रूप से मजबूत बनाने के लिए केंद्र सरकार कई तरह की योजनाएं लाई है। इन्हीं में से एक है, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना। इस योजना के तहत किसानों को साल भर में 2-2 हजार रुपए की तीन किश्त के रूप में 6 हजार रुपए दिए जाते हैं। इस योजना के तहत अब तक 12 किस्तों के पैसे दिए जा चुके हैं। वहीं, 13वीं किश्त का पैसा भी किसानों के खाते में जल्द आना शुरू होगा। हालांकि, कई बार किसानों का पैसा अटक भी जाता है। ऐसे में आप कैसे पता कर सकते हैं कि आपकी किश्त आने वाली है या नहीं, आइए जानते हैं।

अगर आप जानना चाहते हैं कि आपको 13वीं किश्त का फायदा मिलेगा या नहीं, तो इसके लिए आपको अपना स्टेटस चेक करना होगा। यहां पर आपको ई-केवाईसी और लैंड सिडिंग के अलावा पात्रता वाले कॉलम को चेक करना पड़ेगा। अगर इन तीनों कॉलम के आगे ‘Yes’ लिखा है, तो आपको अगली किश्त का फायदा मिलेगा। लेकिन अगर इन तीनों कॉलम के सामने या किसी भी एक कॉलम में  ‘No’ लिखा है, तो  फिर किश्त का पैसा अटक सकता है।

ऐसे चेक करें अपना स्टेटस : 
स्टेप 1 – सबसे पहले आधिकारिक किसान पोर्टल pmkisan.gov.in पर जाएं। यहां दाहिनी ओर Farmers Corner का ऑप्शन मिलेगा।
स्टेप 2 – इसके बाद आपको ‘बेनिफिशियरी स्टेटस’ वाला ऑप्शन दिखेगा। इस पर क्लिक करें।
स्टेप 3 – इसके बाद आपको अपना योजना का रजिस्ट्रेशन नंबर या फिर अपना रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर सबमिट करना होगा।
स्टेप 4 – इसके बाद आपको स्क्रीन पर एक कैप्चा कोड दिखेगा। इसे डालकर सबमिट करना होगा।
स्टेप 5 – इसके बाद स्क्रीन पर आपका स्टेटस आ जाएगा। यहां पर आपको ई-केवाईसी, पात्रता और लैंड सिडिंग के आगे लिखे मैसेज को चेक करना है। इससे पता चल जाएगा कि आपको अगली किश्त का फायदा मिल सकता है या नहीं।

KYC अपडेट होने पर भी नहीं आया पैसा तो करें ये काम : 
अगर आप ई-केवाईसी अपडेट (E-KYC updates) करवा चुके हैं और इसके बाद भी आपके खाते में किसान सम्मान निधि का पैसा नहीं पहुंचा है तो इसकी कुछ और वजहें हो सकती हैं। इन्हें भी चेक करना जरूरी है। अगर इनमें से कोई भी कमी है, तो आपके खाते में अगली किस्त के पैसे जमा नहीं होंगे। ऐसे में आपको आधार सेवा केंद्र में जाकर गलती ठीक करानी होगी। किस्त खाते में न पहुंचने पर पीएम किसान टोल फ्री नंबर 18001155266 पर कॉल करके भी पूछताछ की जा सकती है। इसके अलावा हेल्पलाइन नंबर 011-24300606 पर कॉल करके भी मदद ले सकते हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *