हैरान कर देने वाली ये सच्ची कहानी नवी मुंबई  के वाशी  की है. 24 जुलाई की रात 28 साल के व्यक्ति ने अपनी पत्नी को फोन कर बताया, ‘मेरी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है मैं अब जी नही सकता.’ पत्नी कुछ समझ पाती इसके पहले ही पति का फोन बंद हो गया. घबराई पत्नी ने अपने भाई को फोन कर बताया और फिर पति की खोजबीन शुरू हुई.


वाशी सेक्टर नंबर 17 में सड़क पर उसकी मोटरसाइकिल, चाबी, बैग और हेलमेट भी मिला पर व्यक्ति का कुछ पता नही चला. एसीपी विनायक वत्स के मुताबिक वाशी पुलिस ने शिकायत मिलने के बाद जांच शुरू की. सीसीटीवी खंगाले गए. मोबाइल लोकशन पता करने की कोशिश की गई.

सड़क से लगी खाड़ी में नाव के जरिये भी तलाश की गई लेकिन उसका कुछ पता नही चला. व्यक्ति ने उस रात 100 नंबर पर भी 2 बार डायल किया था इसलिए किसी से दुश्मनी, लूटपाट या झगड़ा के एंगल से भी जांच की गई.

इसी बीच पुलिस को व्यक्ति के प्रेम प्रसंग की जानकारी मिली और फिर जांच की दिशा बदलते हुए पुलिस ने नये सिरे से तलाश शुरू की और महीने भर की मशक्कत के बाद उसके इंदौर में होने का पता चला.

वाशी पुलिस थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक संजीव धुमाल के मार्गदर्शन में एक टीम इंदौर जब पहुंची तो व्यक्ति वहां अपनी प्रेमिका के साथ मिला. 15 सितंबर को पुलिस उसे पकड़कर नवी मुंबई लाई.

बेरोजगार नौकरी से परेशान हो तो सरकार ने आपके लिए 45000 से अधिक पदों पर निकाली भर्ती, 8th/10th पास करे आवेदन, यहाँ क्लिक करें

अजब गजब की अन्य खबरें

लिंक कॉपी हो गया