1500995 modi investment

PPF Account: सरकार की ओर से कई स्कीम चलाई जा रही है, जिनमें लोगों को काफी फायदा होता है. इन स्कीम में सरकार की ओर से लोगों को बचत और निवेश के लिए भी प्रोत्साहित किया जाता है. वहीं अब ऐसी उम्मीद जताई जा रही है कि सरकार की ओर से कुछ प्रमुख योजनाओं में ब्याज दर बढ़ाई जा सकती है. सरकार सार्वजनिक भविष्य निधि (पीपीएफ), सुकन्या समृद्धि योजना, वरिष्ठ नागरिक योजना जैसी छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दरों में बढ़ोतरी पर विचार कर सकती है.

ब्याज दर
मोदी सरकार में वित्त मंत्रालय की ओर से जनवरी-मार्च तिमाही की ब्याज दरों पर फैसला किया जा सकता है. वहीं इस साल 30 सितंबर को सरकार ने वरिष्ठ नागरिक बचत योजना, किसान विकास पत्र (केवीपी), मासिक आय खाता योजना और सावधि जमा पर ब्याज दरों में इजाफा किया था. हालांकि, सार्वजनिक भविष्य निधि (PPF), राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (NSC), सुकन्या समृद्धि योजना जैसी अन्य छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया था.

रेपो रेट
हाल ही में 7 दिसंबर को भारतीय रिजर्व बैंक ने रेपो रेट को 35 आधार अंकों से बढ़ाकर 6.25 प्रतिशत कर दिया था, जो कि मई के बाद से पांचवीं बढ़ोतरी है. कुल मिलाकर, आरबीआई ने इस साल मई से रेपो रेट में 2.25 फीसदी की बढ़ोतरी की है. ऐसे में एसडीएफ रेट को 6 प्रतिशत और एमएसएफ रेट और बैंक दर को 6.50 फीसदी पर समायोजित किया गया है.

इनकी बढ़ सकती है ब्याज दर
आरबीआई के जरिए की गई इतनी बढ़ोतरी के बाद से ही ऐसा माना जा रहा है कि मोदी सरकार अब प्रमुख योजनाओं में ब्याज दर बढ़ा सकती है. ऐसे में उम्मीद है कि 1 साल की FD योजना, 5 साल की FD योजना, 5 साल की RD योजना, राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र योजना, सार्वजनिक भविष्य निधि योजना और सुकन्या समृद्धि योजना में ब्याज दर बढ़ाई जा सकती है.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *