हर जरूरत के लिए अपने स्मार्टफोन में इंस्टॉल करें ऐप्स? अगर आप डिवाइस को सेव करना चाहते हैं तो ऐसा कभी न करें

09 04 2023 09 04 2023 smarphone

नई दिल्ली : स्मार्टफोन हर यूजर की प्रमुख जरूरतों में से एक है। ऑनलाइन शॉपिंग से लेकर गूगल सर्च तक स्मार्टफोन का इस्तेमाल किया जाता है। दैनिक जीवन से जुड़ा यह उपकरण महंगा खर्च है। हर यूजर चाहता है कि डिवाइस पर पैसा खर्च करने के बाद डिवाइस कम से कम 2-3 साल तक चले। ऐसे में सभी के लिए इस डिवाइस को बचाना और भी जरूरी हो जाता है। स्मार्टफोन को बिना किसी परेशानी के लंबे समय तक चलाने के लिए ऐप्स से जुड़ी कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखना जरूरी है-

क्रमपरिवर्तन के दौरान सावधानी बरतें

अगर आप फोन में कोई ऐप इंस्टॉल करने जा रहे हैं तो डाउनलोड करने के बाद ऐप की परमिशन पर ध्यान दें। आवश्यकतानुसार सेवाओं तक पहुंच प्रदान करें। सोशल मीडिया ऐप इंस्टॉल करते समय विशेष रूप से सावधान रहें। ऐप्स को चलाने की जितनी अधिक मांग होती है, फोन की बैटरी और परफॉर्मेंस पर उतना ही नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। इन ऐप्स का एक और नुकसान उच्च डेटा खपत है। अगर ऐप्स बैकग्राउंड में चलते हैं तो डेटा की खपत भी ज्यादा होती है।

एक से अधिक ऐप का इस्तेमाल न करें

कई बार किसी यूजर के फोन में एक ही काम के लिए एक से ज्यादा ऐप होते हैं। अपनी जरूरत के हिसाब से शॉपिंग, होटल बुकिंग, सोशल मीडिया से जुड़े ऐप्स चुनें। कई ऐप्स का इस्तेमाल करने से फोन ओवरलोड हो जाता है, जिससे फोन की धीमी परफॉर्मेंस प्रभावित होती है। अगर आप अलग-अलग सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर एक्टिव हैं तो आप ऐप की जगह ब्राउजर पर ऐप का इस्तेमाल कर सकते हैं।

गतिविधि ट्रैकिंग बंद करें

कई बार किसी ऐप पर कुछ सर्च करने के बाद वह दूसरे ऐप में भी विज्ञापन के तौर पर दिखने लगता है। यह विशेष रूप से तब होता है जब ऑनलाइन खरीदने के लिए सामान की तलाश की जाती है। इसे गतिविधि ट्रैकिंग कहा जाता है। इससे फोन की बैटरी खपत बढ़ जाती है। इतना ही नहीं, इन विज्ञापनों का फोन की परफॉर्मेंस पर भी नकारात्मक असर पड़ता है।

Leave a Comment