MP के कई राज्यों में आंधी बारिश के साथ गिरे ओले, इन जिलों में अगले 4 दिन भारी बारिश का अलर्ट जारी

images 2023 04 26T172815.092

मध्यप्रदेश में फिर से आंधी बारिश का दौर शुरू हो गया है. मध्य प्रदेश के गुना में बुधवार को दोपहर 2:00 बजे के बाद मौसम बदल गया और 3:00 बजे से बारिश शुरू हो गई. मध्यप्रदेश के रतलाम नीमच अशोकनगर सागर में भी जमकर बारिश हुई है और मंदसौर सहित कई जिलों में पेड़ गिर गए हैं.

मंगलवार को भी जबलपुर छिंदवाड़ा में बारिश हुआ. आपको बता दें कि भोपाल और जबलपुर में अगले 4 दिनों तक बारिश का अलर्ट जारी किया गया है वहीं मध्य प्रदेश के कई हिस्सों में अगले 4 दिन तक ओले गिरने का भी अलर्ट मौसम वैज्ञानिकों ने जारी किया है.


MP के कई राज्यों में आंधी बारिश के साथ गिरे ओले, इन जिलों में अगले 4 दिन भारी बारिश का अलर्ट जारी

MP के कई राज्यों में आंधी बारिश के साथ गिरे ओले, इन जिलों में अगले 4 दिन भारी बारिश का अलर्ट जारी

Also Read:MP में कॉलेज छात्र ने मुंह में सुतली बम रखकर फोड़ा, टॉयलेट में की खुदकुशी,फट गया पूरा मुंह

मौसम वैज्ञानिक एचएस पांडे ने जानकारी दिया कि 26 अप्रैल से उत्तर भारत में वेस्टर्न डिस्टरबेंस एक्टिव होगा. आपको बता दें कि इसका सर मध्यप्रदेश में दिखेगा और भारी बारिश कई राज्यों में देखने को मिल सकता है. 4 मई तक प्रदेश के कई हिस्सों में बारिश होगा.

MP के कई राज्यों में आंधी बारिश के साथ गिरे ओले, इन जिलों में अगले 4 दिन भारी बारिश का अलर्ट जारी

images 2023 04 26T172720.424

मौसम वैज्ञानिकों ने मध्य प्रदेश के लिए 29 अप्रैल का वेदर रिपोर्ट जारी किया है जिसके अनुसार बुरहानपुर खंडवा खरगोन सिंगरौली सीधी रीवा सतना अनूपपुर शहडोल उमरिया डिंडोरी कटनी जबलपुर नरसिंहपुर सिमली मंडला बालाघाट सागर छतरपुर टीकमगढ़ सहित कई जिलों में 26 अप्रैल की जोरदार बारिश होने की संभावना है.

मध्य प्रदेश के कई जिलों में 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने वाली है. बता दें कि मध्य प्रदेश के 10 से ज्यादा शहरों में मंगलवार का रात का तापमान 20 डिग्री से कम रहा है वही पंचमढ़ी में ठंडे मलाजखंड और ग्वालियर में भी ठंड देखने को मिला है.

images 2023 04 26T172807.970

मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो भोपाल में 27,28, 29 अप्रैल को तेज बारिश होने का अनुमान है वहीं रात के तापमान में भी गिरावट देखने को मिल सकती है. बारिश होने की वजह से मध्य प्रदेश के कई हिस्सों में तापमान में गिरावट देखने को मिलेगा.