सफला एकादशी पर बुधादित्य योग, लक्ष्मी नारायण योग, त्रिग्रही योग का शुभ योग
Posted inधर्म

सफला एकादशी पर बुधादित्य योग, लक्ष्मी नारायण योग, त्रिग्रही योग का शुभ योग

सनातन धर्म में एकादशी का बहुत महत्व माना गया है। एक वर्ष में 24 एकादशियां आती हैं। मगशर मास के कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि को सफला एकादशी कहते हैं। यह साल की आखिरी एकादशी है। इस बार सफला एकादशी 19 दिसंबर 2022, सोमवार को पड़ रही है। सफला एकादशी के दिन भगवान विष्णु की पूजा की जाती है। कहा जाता है कि सफला एकादशी का व्रत करने से सभी कार्य सिद्ध और सफल होते हैं। इसके अलावा अगर कोई इस दिन सच्ची श्रद्धा से व्रत रखता है तो उसकी सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। इसके साथ ही एक साथ तीन योग बन रहे हैं सफला एकादशी, बुधादित्य योग, लक्ष्मी नारायण योग और त्रिग्रही योग। इस वजह से सफला एकादशी के दिन कुछ राशियों की किस्मत चमकेगी।

वृषभ

सफला एकादशी के दिन 3 शुभ योग बनने से वृष राशि वालों को बंपर लाभ मिलेगा। वृष राशि वालों को पार्टनरशिप से लाभ होगा। करियर के क्षेत्र में अच्छे परिणाम मिलेंगे। खर्चे नियंत्रण में रहेंगे। रुके हुए काम पूरे होंगे। स्वास्थ्य में भी सुधार होगा। आर्थिक लाभ होगा।

लियो

इन 3 योगों के कारण सिंह राशि वालों के लिए समय अच्छा रहेगा। आय में वृद्धि होगी। कार्यक्षेत्र में सहकर्मियों का सहयोग मिलेगा। आप शत्रुओं का सामना करने में सक्षम होंगे। हर क्षेत्र में सकारात्मक परिणाम मिलेंगे। जो लोग शेयर मार्केटिंग में निवेश करने की सोच रहे हैं उन्हें भी लाभ होगा।

तुला

सफला एकादशी पर किया जाने वाला लक्ष्मी नारायण योग तुला राशि वालों के लिए बहुत ही शुभ साबित होने वाला है। जिससे धन में वृद्धि होगी। पुराना रोग दूर होगा। खर्चे नियंत्रण में रहेंगे जिससे आर्थिक लाभ होगा। नए क्षेत्र में सकारात्मक परिणाम मिलेंगे। प्रमोशन की संभावनाएं भी इस समय बन रही हैं।