माई भागो इंस्टीट्यूट की दो महिला कैडेटों का फ्लायंग अफ़सर के तौर पर चुना जाना पंजाब के लिए गौरवपूर्ण बात

चंडीगढ़, 17 दिसंबरः
पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान के दूरदर्शी नेतृत्व में माई भागो आर्म्ड फोर्सिज़ प्रैपरेटरी इंस्टीट्यूट ( ए. एफ. पी. आई) फॉर गर्लज़, मोहाली की दो छात्राओं सहजप्रीत कौर और कोमलप्रीत कौर का शनिवार को एयर फोर्स अकैडमी, डुंडीगल, हैदराबाद से बतौर फ्लायंग अफ़सर चुना जाना संस्था के लिए गौरवपूर्ण बात है और इससे इंस्टीट्यूट की प्रतिष्ठा में और विस्तार हुआ है।

ज़िक्रयोग्य है कि फ्लायंग अफ़सर सहजप्रीत कौर, जो फ्लायंग ट्रांसपोर्ट शाखा में सेवा निभाएगी, भारतीय फ़ौज के सूबेदार मेजर की बेटी है और अमृतसर ज़िले की निवासी है। उसने अकैडमी में शानदार प्रदर्शन किया और अफसरों जैसे गुणों और जनरल स्टड्डीज़ में सर्वोत्तम कैडेट का अवार्ड जीता है। इसी तरह फ्लायंग अफ़सर कोमलप्रीत कौर के पिता पंजाब पुलिस में सेवा निभा रहे हैं और वह ज़िला गुरदासपुर से सम्बन्ध रखती है। उसकी नियुक्ति हवाई सेना की नेविगेशन शाखा में हुई है।

माई भागो ए. एफ. पी. आई, रोज़गार सृजन, हुनर विकास और प्रशिक्षण विभाग के अधीन पंजाब सरकार की एक निवेकली पहलकदमी है, जिससे पंजाब की लड़कियाँ को हथियारबंद सेनाओं में कमिशनड अफ़सर बनने के योग्य बनाया जाता है। इंस्टीट्यूट अत्याधुनिक बुनियादी ढांचे के साथ और पूरी तरह रिहायशी सहूलतों के साथ लैस है और देश में अपनी किस्म का यह एक कैंपस है। यहाँ की लड़कियों को एएफसीएटी, सीडीएस और एस. एस. बी जैसी राष्ट्रीय स्तर की लिखित मुकाबला परीक्षाओं में सफल होने के लिए प्रशिक्षण दिया जाता है।

संस्था के डायरैक्टर मेजर जनरल जसबीर सिंह संधू, ए. वी. एस. एम. (सेवामुक्त) ने बताया कि अब तक 23 महिला कैडेटें अलग-अलग आर्म्ड फोर्सिज़ ट्रेनिंग अकैडमियों में चुनी जा चुकी हैं, जिनमें से 13 की नियुक्ति अफ़सर के तौर पर हुई है।