भारतीय महिला एथलीट पर लगा 2 साल का बैन, एशियाई खेलों में किया था कमाल

नाडा के डोपिंग रोधी अपील पैनल (एडीएपी) ने अनुशासनात्मक पैनल के तीन महीने के निलंबन के फैसले को उलट दिया है और अब इस खिलाड़ी को 2 साल का बैन सौंपा है.

एम आर पूवम्मा पर लगा दो साल का बैन. (File Pic)_

भारत की सीनियर क्वार्टर मिलर और एशियाई खेलों की पदक विजेता एम आर पूवम्मा पर पिछले साल डोपिंग जांच में विफल आने के बाद दो साल का प्रतिबंध लगाया गया. नाडा के डोपिंग रोधी अपील पैनल (एडीएपी) ने अनुशासनात्मक पैनल के तीन महीने के निलंबन के फैसले को उलट दिया. बत्तीस साल की पूवम्मा का डोप नमूना पिछले साल 18 फरवरी को पटियाला में इंडियन ग्रां प्री एक के दौरान लिया गया था जिसमें वह मिथाइलहेक्सेनअमाइन प्रतिबंधित पदार्थ की पॉजिटिव पायी गई थीं.

यह विश्व डोपिंग रोधी एजेंसी (वाडा) संहिता के अंतर्गत प्रतिबंधित पदार्थ है. डोपिंग रोधी अनुशासनात्मक पैनल ने जून में उन्हें महज तीन महीने के लिए निलंबित किया था. लेकिन नाडा की अनुशासनात्मक पैनल के फैसले के खिलाफ अपील में एडीएपी ने पूवम्मा पर दो साल का प्रतिबंध लगाया गया.

लिया ये फैसला

एडीएपी के मुखिया अभिनव मुखर्जी ने कहा, “हमने 16 जून 2022 को एडीएपी के फैसले को परे रखते हुए नाडा की अपील को अनुच्छेद 10.2.2 के तहत कबूल कर लिया है. हमने साथ ही अनुच्छेद 10.10 के तहते खिलाड़ी द्वारा नूमना लिए जाने के बाद से हासिल किए गए परिणमों को भी अयोग्य करार दे दिया है. साथ ही उनके पदकों, अंकों और ईनामों की भी वापस लेना का फैसला किया है.”

पैनल हेड ने कहा, “एक बार जब प्रतिबंधित पदार्थ से अंश खिलाड़ी के शरीर में पाए जाते हैं और रिहाई देने वाले या गंभरीता कम करने वाली स्थितियां नहीं पाई जाती हैं तो एडीएर के तहत तो स्वाभाविक नियम हैं उनका पालन किया जाता है.

ये भी पढ़ें



कैम्प छोड़ कर भागी थीं

पूवम्मा 2018 एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली चार गुणा 400 मीटर महिला और मिश्रित रिले टीमों की सदस्य थीं. वह 2014 एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली चार गुणा 400 मीटर रिले टीम का भी हिस्सा थीं. उन्होंने 2012 एशियाई खेलों में व्यक्तिगत 400 मीटर का कांस्य पदक जीता था. उन्हें 2015 में अर्जुन पुरस्कार से नवाजा गया था. पिछले साल टोक्यो ओलिंपिक से कुछ सप्ताह पहले उन्होंने पटियाला में ट्रायल्स में हिस्सा नहीं लिया था जिसके बाद उनके डोप टेस्ट में फेल होने की आशंका जताई गई थी. इसके बाद उन्होंने नेशनल कैम्प भी छोड़ दिया था जिसने कई लोगों को हैरान किया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.