धोखाधड़ी मामले में सपना चौधरी का सरेंडर, इस शर्त पर कोर्ट ने दी डांसर को राहत

सपना चौधरी सोमवार को लखनऊ हाईकोर्ट में पेशी हुई थी, जहां उन्हें कोर्ट के आदेश के बाद कस्टडी में ले लिया गया था. बता दें धोखाधड़ी मामले में सपना ने सरेंडर कर दिया है.

सपना चौधरी

Image Credit source: (फाइल)

हरियाणा की मशहूर डांसर सपना चौधरी लंबे वक्त से धोखाधड़ी मामले में कोर्ट के चक्कर लगा रही हैं. सोमवार को लखनऊ हाईकोर्ट में उनकी पेशी हुई जहां कोर्ट ने सपना को कस्टडी में लेने का आदेश जारी कर दिया. बता दें कि कई सालों से उनपर धोखाधड़ी का मामला दर्ज था. खबरों की मानें तो सपना ने आज कोर्ट में पेश होकर इस मामले में सरेंडर कर दिया है. उनके खिलाफ अदालत ने गैर ज़मानती वारंट जारी किया था, जिसके बाद उन्होंने कोर्ट के आगे अपना गुनाह कबूल कर लिया. हालांकि, सरेंडर करने के कुछ ही देर बाद कोर्ट ने सपना का वारंट वापस ले लिया.

आपको बता दें कि 1 मई साल 2019 को सपना चौधरी के खिलाफ विश्वास हनन और धोखाधड़ी के आरोप में मुकदमा दर्ज करवाया गया था. जिसके बाद इस मामले में 20 जनवरी 2019 को सपना समेत 5 लोगों के के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया गया था.

सपना चौधरी पर आरोप है कि उन्होंने डांस शो के लिए पैसा तो लिया था, लेकिन वो शो करने के लिए वेन्यू पर नहीं पहुंची थीं. इस मामले में मेकर्स ने सपना के खिलाफ धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए उनके खिलाफ लखनऊ स्थित आशियाना थाने में मामला दर्ज करवा दिया था. बता दें कि ये मामला 13 अक्टूबर साल 2018 का है. उस दौरान आशियाना के एक क्लब में सपना का डांस शो आयोजित कराया गया था. शो के टिकट ऑनलाइन और ऑफलाइन बेचे गए थे.

सपना के ना पहुंचने पर जमकर हुआ बवाल

खबरों के मुताबिक, हरियाणवी डांसर सपना चौधरी को प्रोग्राम में एंट्री के लिए प्रति व्यक्ति 300 रुपए में ऑनलाइन और ऑफलाइन टिकट बेचा गया था. इस इवेंट को देखने के लिए हजारों लोगों ने टिकट खरीदे लेकिन रात 10 बजे तक सपना चौधरी वहां नहीं आईं. बताया जाता है कि सपना के ना पहुंचने की वजह से वहां पर जमकर हंगामा हुआ था. इन सब बवाल के बाद जब लोगों ने अपने टिकट के पैसे वापस मांगे तो उन्हें वो भी नहीं मिले.

Leave a Reply

Your email address will not be published.