West Bengal: विधायकों के निलंबन के खिलाफ BJP ने विधानसभा में किया प्रदर्शन, शुभेंदु ने कहा-‘दिल्ली में ममता की बैठक होगी फेल’

Suvendu Adhikari In Bengal Assembly

पश्चिम बंगाल विधानसभा (West Bengal Assembly) में विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी सहित निलंबित भाजपा विधायकों ने पश्चिम बंगाल विधानसभा में धरना दिया. इस वर्ष मार्च में बीरभूम हिंसा को लेकर सदन में तृणमूल विधायकों के साथ झड़प के बाद पश्चिम बंगाल विधानसभा अध्यक्ष द्वारा 5 भाजपा विधायकों (BJP Suspended MLA) को निलंबित कर दिया गया था. बुधवार को बीजेपी के विधायकों ने विधायकों के निलंबन का मुद्दा विधानसभा में उठाया. उसके बाद बीजेपी के विधायक विधानसभा की कार्यवाही से वॉकआउट कर गए और विधानसभा के गेट पर बीजेपी के विधायकों ने धरना दिया. इस अवसर पर शुभेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari) ने दल्ली में राष्ट्रपति चुनाव को लेकर ममता बनर्जी की बैठक को लेकर कटाक्ष किया.

बता दें कि राष्ट्रपति चुनाव से पहले विपक्ष को एक करने के लिए ममता बनर्जी आज दिल्ली में हैं. दोपहर तीन बजे कंस्टीट्यूशन क्लब में राष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवार तय करने के लिए मीटिंग बुलाई है.

दिल्ली में ममता बनर्जी की बुलाई बैठक महत्वहीन-बोले शुभेंदु अधिकारी

शुभेंदु अधिकारी ने ममता बनर्जी की दिल्ली बैठक का मजाक उड़ाया. विपक्ष के नेता ने विधानसभा में कहा कि उन्होंने कई बार कोशिश की हैं, लेकिन असफल रही हैं. इस बार भी वह फेल हो जाएगी. वह एक बार समर्थन लेने के लिए मुलायम सिंह के घर गई थीं, लेकिन मुलायम पिछले दरवाजे से बाहर निकल गए थे और सोनिया गांधी से हाथ मिलाया था. इस बार भी ऐसा ही होगा. ममता बनर्जी द्वारा बुलाई गई बैठक का कोई महत्व नहीं दे रहे हैं. बैठक में सोनिया, प्रियंका कोई नहीं शामिल हो रहे हैं. दिल्ली में कांग्रेस कार्यालय के कुछ क्लर्क जा रहे हैं. इस बैठक की किसी को परवाह नहीं है. बीजद, चंद्रशेखर राव, जगनमहान रेड्डी ने पहले ही बैठक में हिस्सा नहीं लेने का ऐलान कर दिया है. उन्होंने कहा कि बंगाल में बीजेपी के 18 सांसद हैं, लेकिन उससे अधिक वोट मिलेंगे. उन्होंने यूपी चुनाव के बाद कहा था कि योगी की सरकार बनेगी और लड्डू खिलाया था. इस बार भी फिर से एनडीएन मनोनीत व्यक्ति ही राष्ट्रपति होगा और वह वादा करते हैं कि फिर से वह लड्डू खिलाएंगे.

शुभेंदु अधिकारी ने टीएमसी विधायक शौकत मोल्ला को गिरफ्तार करने की मांग की

राज्यपाल की जगह ममता बनर्जी को सरकारी विश्वविद्यालयों की चांसलर बनाने पर शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि शिक्षा संयुक्त सूची में है इसलिए राज्यपाल इसे शिक्षा विधेयक की मंजूरी के लिए दिल्ली भेज सकते हैं. उन्होंने कहा,”हम सोमवार को राज्यपाल से मिलने जा रहे हैं. झूठी डॉक्टरेट की उपाधि लेने वाली ममता को कुलपति नहीं बनाया जा सकता है. टीएमसी विधायक शौकत मुल्ला को सीबीआई द्वारा तलब किये जाने पर शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि उन्हें गिरफ्तार करना चाहिए.

Similar Posts