Weather Forecast: हरियाणा-UP में मिलेगी लू से राहत, पंजाब समेत इन राज्यों में बरस सकते हैं बादल, जानें देशभर के मौसम का हाल

Heatwave

उत्तर भारत के लोगों को भीषण गर्मी (Heatwave in India) से राहत दिलाने के लिए जल्द ही बारिश का आगमन हो सकता है. राजधानी दिल्ली में भी भीषण गर्मी से राहत मिलने के आसार हैं. भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता को देखते हुए आने वाले छह दिनों में बारिश (Delhi Rain Update) की संभावना के साथ येलो अलर्ट जारी कर दिया है. ऐसे में पूरे हफ्ते तेज हवाओं और बारिश का दौर जारी रह सकता है. इस बीच मंगलवार को आसमान में बादल छाए रहे, जिसके परिणामस्वरूप अधिकतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई और जून के महीने में पहली बार अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से नीचे दर्ज किया गया है.

मौसम विभाग के मुताबिक सफदरजंग वेधशाला में अधिकतम तापमान 39.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. सोमवार को अधिकतम तापमान 43.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था. राष्ट्रीय राजधानी में न्यूनतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री अधिक 31.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. राष्ट्रीय राजधानी के सभी मौसम केंद्रों में अधिकतम तापमान 38 डिग्री सेल्सियस और 42 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया. आने वाले दिनों में लगातार पश्चिमी विक्षोभ और निचले स्तर की पुरवाई हवा चलने की संभावना है, जिससे भीषण गर्मी से राहत मिलने की उम्मीद है.

35 डिग्री सेल्सियस तक गिर सकता है पारा

आईएमडी ने अगले छह दिनों में गरज के साथ बौछारें पड़ने या हल्की बारिश की चेतावनी देते हुए येलो अलर्ट जारी किया है. रविवार तक पारा 35 डिग्री सेल्सियस तक गिरने का अनुमान है. एक जून से मानसून का मौसम शुरू होने के साथ इस बार राजधानी में कोई बारिश दर्ज नहीं की गई है. आमतौर पर दिल्ली में जून महीने के पहले 13 दिनों में 13.8 मिमी बारिश होती है. स्काईमेट के उपाध्यक्ष (जलवायु परिवर्तन और मौसम विज्ञान) महेश पलावत ने कहा कि मानसून के 27 जून अथवा उससे एक दो दिन पहले दिल्ली पहुंचने की उम्मीद है.

अन्य राज्यों की बात करें, तो राजस्थान में पिछले 24 घंटों के दौरान पश्चिमी हिस्सों के कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश और पूर्वी हिस्सों में कहीं-कहीं हल्की बारिश हुई. बीकानेर जिले में बारिश के साथ ओलावृष्टि दर्ज की गई. राज्य के अधिकतर स्थानों पर दिन और रात का तापमान सामान्य से नीचे रहा. छुटपुट स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश पूर्वी राजस्थान में आगामी तीन-चार दिन जारी रहेगी. असम के गुवाहाटी में भारी बारिश के बीच हुए भूस्खलन के कारण चार लोगों की मौत हो गई है और शहर में बाढ़ आ गई है.

अभी हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड और ओडिशा में लू की स्थिति बरकरार है. आईएमडी का कहना है कि यहां 15-16 जून को कड़ी धूप से राहत मिलेगी. पश्चिमी विक्षोभ के चलते पश्चिमी हिमालय क्षेत्र और उसके आसपास के मैदानी इलाकों (पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और राजस्थान) में 13-15 जून तक छिटपुट बारिश और गरज पड़ने की संभावना है. आईएमडी का अनुमान है कि हिमालयी क्षेत्रों में भारी बारिश हो सकती है. जबकि 16 और 17 जून को पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और पूर्वी उत्तर प्रदेश में भी तेज बारिश के आसार हैं. मौसम विभाग का कहना है कि अगले दो दिनों में तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, झारखंड और बिहार के कुछ हिस्सों में मानसून के आगे बढ़ने के लिए स्थितियां अनुकूल हैं. वहीं पूर्वोत्तर और उप हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में तेज बरिश पांच दिन और जारी रह सकती है.

Similar Posts