Uttar Pradesh: ये कैसी व्यवस्था! जाम में फंस कर महिला की मौत, परिजन इलाज के लिए ले जा रहे थे कानपुर

Jam Unnao Ganga Pul

यूपी के उन्नाव (Unnao) के गंगा पुल पर उस वक्त हड़कंप मच गया जब उपचार के लिए कानपुर जा रही विवाहिता की मौत हो गई (Ill Women Died). उन्नाव से कानपुर जाते वक्त एक वाहन टकरा कर खराब हो गया जिससे गंगापुल से लेकर शुक्लागंज तक भीषण जाम लग गया (Jam). जाम लगने से यातायात पूरी तरह से बाधित हो गया है स्कूल जाने वाले बच्चों से लेकर ऑफिस में नौकरी करने वाले व कामगार भी फंस गए. वही शुक्लागंज के कंचननगर निवासी एक बीमार विवाहिता अपने पिता के साथ उपचार कराने कानपुर हैलट बैटरी रिक्शा से जा रही थी व भी भीषण जाम में फंस गई अचानक तबियत बिगड़ी और उसकी मौके पर ही मौत हो गयी (Death in Traffic Jam). जिस पर परिजनों में कोहराम मच गया. भीषण जाम के बावजूद दूर दूर तक पुलिस कर्मी नज़र नही आए.

उन्नाव के गंगा घाट थाना क्षेत्र अंतर्गत कंचन नगर निवासी सावित्री उम्र 27 साल किडनी के उपचार के लिए अपने पिता रामचंद्र के साथ कानपुर हैलट अस्पताल ई रिक्शा से जा रही थी. आपको बताते चलें कि एक कार चालक कानपुर से शुक्लागंज की ओर आ रहा था तभी अचानक बीच पुल पर आगे चल रहे वाहन पर टक्कर मार दी जिससे उसकी कार क्षतिग्रस्त हो गई जिस वजह से पुल पर भीषण जाम लग गया और जाम लगने से यातायात पूरी तरीके से बाधित हो गया. जाम में स्कूली बच्चे कामगार मजदूर जाम लगने से घंटों फंसे रहे.

जाम में फंसने के चलते हुई महिला की मौत

वहीं उपचार के लिए हैलट अस्पताल ई रिक्शा से जा रही सावित्री भी जाम में फंसी थी. ई-रिक्शा बालू घाट मोड़ के पास पहुंचा तभी जाम में फंसने के कारण सावित्री की ई-रिक्शा में मौत हो गई. जाम में फंसकर मौत होने पर मौजूद लोगों में अफरा-तफरी मच गई. कानपुर की ओर जा रहे राहगीरों ने किसी तरह से एक और के वाहनों के और ई रिक्शा को बाहर निकलवाया. महेश सावित्री के पिता रामचंद्र ने बताया कि पुल पर जाम ना लगा होता तो वहां बेटी को समय से इलाज मिल पाता और उसकी जान बच सकती थी.

स्थानीय लोगों में प्रशासन के प्रति रोष

विवाहिता की मौत के बाद स्थानीय लोगों में प्रशासन के प्रति रोष देखने को मिला क्योंकि शुक्लागंज में इतना भीषण जाम लगा हुआ था और पुलिस व ट्रैफिक का एक भी सिपाही दूर-दूर तक नजर नहीं आ रहा था.

Similar Posts