Uttar Pradesh: मुरादाबाद में अवैध संबंध में बाधक बन रहा था पति, पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर उतारा मौत के घाट; गिरफ्तार

Moradabad Police Arrested

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुरादाबाद जिले में दिल दहलादेने वाला मामला सामने आया है. जहां की रहने वाली प्रेमिका ने प्यार में अंधा होकर अपने प्रेमी की चाह में अपने पति की हत्या करा दी. दरअसल,12 साल पुराने प्यार को पाने के लिए महिला ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति को मौत के घाट उतार दिया. पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद कातिल पत्नी और उसके सिरफिरे आशिक को गिरफ्तार करते हुए घटना का खुलासा किया है. पुलिस के मुताबिक, दोनों ही आरोपियों को जेल भेज दिया है. वहीं, इस पूरे मामले में 2 नामजद आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए मुरादाबाद पुलिस प्रयास कर रही है. इसके साथ ही उन आरोपियों को भी जल्द गिरफ्तार करते हुए सलाखों के पीछे भेजने की बात कह रही है.

दरअसल, पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, बिजनौर जिले के धामपुर इलाके की टीचर कॉलोनी का रहने वाले निपेंद्र की शादी मुरादाबाद जिले के थाना सिविल लाइंस इलाके के मलकपुर निजामपुर की रहने वाली कुसुम पाल उर्फ गीता के साथ हुई थी. जहां नृपेंद्र कुछ समय से ही अपनी ससुराल में ही रह रहा था, लेकिन अचानक 5 मई को निपेंद्र लापता हो गया. इस दौरान परिजनों ने पूरे मामले को लेकर परिजनों ने थाने में जाकर गुमशुदगी दर्ज कराई थी. जिस मामले में नृपेंद्र की पत्नी ने थाने में रो-रोकर पुलिस से गुहार लगाई थी.

सख्ती से पूछताछ करने आरोपी पत्नी ने कबूला जुर्म

वहीं, महिला द्वारा लगातार कई गंभीर आरोप लगाते हुए एक प्रार्थना पत्र पुलिस को सौंपा था. इस दौरान पुलिस के हाथ बड़ी सफलता लग गई. जब महिला की सर्विलांस टीम ने जांच के लिए महिला के नंबर पर आए फोन कॉल को चेक किया तो उसमें एक नंबर से घंटो बातचीत होती थी. जिस पर ही पुलिस को शक हो गया. इसके बाद तुरंत ही पुलिस ने मामले में गिरफ्तारी करते हुए महिला से जब सख्ती से पूछताछ की तो महिला ने अपना गुनाह कबूल कर लिया. इसके बाद घटना की जानकारी पुलिस को दे दी.

अधिकारी बोले- जल्द ही अन्य 2 आरोपी होंगे पुलिस की गिरफ्त में

पुलिस अधिकारी के मुताबिक, पूछताछ के दौरान पत्नी ने बताया कि उसका पति निपेंद्र शराब के नशे में उसके साथ मारपीट करता था.जिसके चलते उसने अपने प्रेमी नीरज के साथ पति की हत्या करने को कहा. इसी तरह नीरज ने अपने साथी मिथुन और सौरभ की मदद से निपेंद्र को शराब पिलाने के बहाने अपने साथ ले गए. इसके बाद गिरजा देवी में ले जाकर उसकी गला दबाकर हत्या कर दी. वही जंगल में उसके शव को फेंक दिया. हालांकि, पुलिस ने इस मामले में निपेंद्र की पत्नी कुसुम पाल उर्फ गीता और नीरज को गिरफ्तार कर लिया है. जबकि सौरव और मिथुन अभी भी पुलिस की गिरफ्त से दूर हैं. फिलहाल पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए प्रयास कर रही है. उनका कहना है कि जल्द ही बचे हुए अन्य दो आरोपी पुलिस की गिरफ्त में होंगे.

Similar Posts