UP: हल्दीराम कंपनी के MD सहित चार लोगों पर धोखाधड़ी का केस दर्ज, घटिया क्वालिटी की मिली थी नमकीन

Fraud

उत्तर प्रदेश के बरेली (Bareilly) में हल्दीराम कंपनी (Haldiram Company) के प्रबंध निदेशक और एमडी सहित चार लोगों पर धोखाधड़ी का मामला (Fraud Case) सामने आया है. इन चारों लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया गया है. हल्दीराम कंपनी ने नमकीन की गुणवत्ता सही ना होने पर श्रुति ट्रेडर्स कंपनी की मालकिन से माल तो वापस ले लिया लेकिन पैसे वापस नहीं दिए. श्रुति ट्रेडर्स कंपनी की मालकिन को धमकाया भी गया था मालकिन ने बरेली एसएसपी (SSP) से इस पूरे मामले की शिकायत की और एसएसपी के आदेश पर हल्दीराम कंपनी के प्रबंधक निदेशक एवं एमडी के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया गया है. मुकदमा दर्ज करने के बाद आगे की जांच पड़ताल चालू कर दी गई है.

बरेली की पवन बिहार में रहने वाली प्रीति गुप्ता ने बताया कि मैं श्रुति ट्रेडर्स नाम से कंपनी चलाती हूं और मैंने हल्दीराम कंपनी के एमडी अशोक कुमार अग्रवाल (Haldiram MD Ashok Agarwal) से सुपर नमकीन खरीदने की बात की थी. और कंपनी के के खाते में 274008 रुपए जमा करने की बात हुई फिर कंपनी के खाते में तीन लाख रुपये आरटीजीएस के माध्यम से जमा कर दिए. उसके बाद कंपनी पर 25959 रुपए बच रहे थे. हल्दीराम कंपनी ने नमकीन भिजवाई जब नमकीन के पैकेट चेक किए गए तो उसकी गुणवत्ता ठीक नहीं थी जब इसकी शिकायत कंपनी के एमडी से की तो उन्होंने नमकीन के पैकेट को वापस करने की बात कही और नमकीन के पैकेट भी वापस कर लिए.

कंपनी ने पूरे पैसे नहीं किए वापस

जो हल्दीराम कंपनी ने नमकीन वापस ली उसकी कीमत 186127 रुपए बनी थी लेकिन कंपनी के एमडी ने माल तो वापस कर लिए और पैसे वापस नहीं किए. श्रुति ट्रेडर्स की मालकिन प्रीति ने बताया है कि हल्दीराम कंपनी पर 250086 रुपए निकल रहे थे जब रुपए मांगे तो कंपनी के एमडी ने उसे जान से मारने की धमकी दी. कंपनी को कई बार नोटिस भी दिए लेकिन उन्होंने पैसे वापस नहीं किए.

श्रुति ट्रेडर्स की मालकिन ने बरेली एसएसपी से की थी शिकायत

श्रुति ट्रेडर्स की मालकिन ने बरेली के एसएसपी रोहित सिंह से हल्दीराम कंपनी की धोखाधड़ी की शिकायत की थी और एसएसपी बरेली ने शिकायत का संज्ञान लेकर कंपनी के एमडी समेत चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए थे. फिलहाल हल्दीराम कंपनी के एमडी व निदेशक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है और आगे की कार्रवाई की जा रही है.

Similar Posts