UP: मेंटल हॉस्पिटल में जला मिला फोर्थ क्लास कर्मचारी का शव, कमरा नंबर 6 से सुसाइड नोट बरामद; रस्सी से बंधे थे हाथ-पैर

Bareilly mental hospital fourth class employee dead body found burnt in campus suicide note also recovered

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के बरेली (Bareilly) में एक खौफनाक घटना सामने आई है. यहां के मेंटल हॉस्पिटल (Mental Hospital) में बुधवार को चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी (Fourth Class Worker) का शव जला हुआ मिला है. मृतक के हाथ-पैर रस्सी से बंधे मिले. घटना से हॉस्पिटल परिसर में खलबली मच गई. बताया जा रहा है कि कर्मचारी हॉस्पिटल में टेलर के पद पर तैनात था. शव मिलने की सूचना पर एसपी सिटी रविंद्र कुमार मौके पर पहुंचे. शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है. छानबीन में पुलिस को कमरा नंबर 6 से एक सुसाइड नोट(Suicide Note) भी हाथ लगा है. मामले की जांच पड़ताल में पुलिस लगी है.वहीं, मृतक के परिजनों ने हॉस्पिटल स्टाफ पर लगाया हत्या का आरोप लगाया है.

बताया जा रहा है कि सीबीगंज थाना क्षेत्र के जौहरपुर निवासी महेश चंद्र मेंटल हॉस्पिटल में रोगियों के कपड़े सिलने का काम करते थे. वह रोजाना की तरह सुबह 8:00 बजे अपनी ड्यूटी के लिए निकले और वापस घर नहीं लौटे. परिवार वालों ने हॉस्पिटल पहुंचकर पता किया. स्टोर का मेन दरवाजा बंद था, और उन्हें आवाज लगाई गई, मगर अंदर से कोई जवाब नहीं आया. ऐसे में परिजनों ने दरवाजा धक्का देकर खोलकर देखा तो महेश का शव जला हुआ पड़ा मिला. घटना से हॉस्पिटल परिसर में खलबली मच गई.

कमरा नंबर 6 से मिला सुसाइड नोट

सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है. फॉरेंसिक टीम के साथ पहुंची पुलिस ने हॉस्पिटल परिसर का चप्पा-चप्पा छानबीन की. इसी दौरान कमरा नंबर 6 में एक सुसाइड नोट मिला है. पुलिस ने सुसाइड नोट को अपने कब्जे में ले लिया है और जांच पड़ताल जारी है.

मृतक के बेटे ने लगाया हॉस्पिटल स्टाफ पर हत्या का आरोप

मृतक महेश चंद्र के बेटे अखिलेश ने हॉस्पिटल स्टाफ पर हत्या का आरोप लगाया है. पुलिस को बताया कि मेरे पिता की हत्या कर उन्हें जिंदा जलाया गया है. मुझे इंसाफ चाहिए. वहीं, पुलिस ने मृतक के बेटे की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया है. हॉस्पिटल के एक कर्मचारी को हिरासत में लिया गया है. उससे पूछताछ की जा रही है.

मृतक के हाथ-पैर रस्सी से बंधे मिले

पुलिस के मुताबिक, मृतक महेश चंद के पैर रस्सी से बंधे हुए थे. शरीर का नीचे का धड़ ज्यादा जला हुआ था, लेकिन ऊपर का हिस्सा ज्यादा जला हुआ नहीं था. अनुमान लगाया जा रहा है कि महेश कि पहले गला दबाकर हत्या की गई है, बाद में किसी केमिकल को डालकर जला दिया गया है. क्योंकि जिस जगह पर कर्मचारी का शव पड़ा मिला था, वहां आसपास भी कोई चीज जली हुई दिखाई नहीं दे रही थी.

वहीं, एसपी सिटी रविंद्र कुमार ने बताया कि मेंटल हॉस्पिटल में एक कर्मचारी का जला हुआ शव मिला है. शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी. एसपी सिटी ने बताया कि सभी पहलुओं पर जांच की जा रही है.

Similar Posts