UP: बरेली में मंत्री धर्मपाल सिंह के फोन पर अधिकारियों ने पकड़ा हमलावर सांड; अब तक कई ग्रामीणों को कर चुका है घायल

Whatsapp Image 2022 05 14 At 11.50.51 Am

उत्तर प्रदेश में आवारा पशुओं और सांड की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. अवारा पशुओं (stray animals) की बढ़ती संख्या किसानों की फसल के लिए लगातार नासूर बनी हुई है. इतना ही नहीं आवारा पशु और सांड किसानों को अपना शिकार बना रहे हैं. कुछ दिन पहले ही नवाबगंज तहसील के एक गांव के रहने वाले किसान को सांड ने पटक-पटक कर मार डाला और उसके बाद बरेली (Bareilly) के आंवला तहसील के गुलेली गांव में सांड का आतंक देखने को मिला. वहां सांड ने कई लोगों को घायल कर दिया. और एक बुजुर्ग की मौत हो गई. सांड के आतंक को देखकर गांव वालों ने परेशान होकर पशुधन मंत्री धर्मपाल सिंह से शिकायत की.

मंत्री धर्मपाल सिंह (Minister Dharampal Singh) ने गांव वालों की शिकायत को तत्काल सुनकर मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को फोन करके आवारा सांड को पकड़ने के लिए कहा. जिस के बाद मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने टीम भेजकर आवारा सांड को बधिया करके गौशाला भिजवाया है. आवारा सांड को पकड़ने के बाद गांव वालों ने राहत की सांस ली है.

सांड के आंतक से परेशान थे ग्रामीण

दरअसल बरेली के आंवला के गांव गुलेली में पिछले कई दिनों से आवारा सांड ने आतंक मचा रखा था और आए दिन किसी न किसी व्यक्ति पर हमला कर उसे घायल कर देता था. सांड ने दो किसानों को घायल कर दिया. जब ग्रामीणों ने उसे पकड़ने का प्रयास किया तो वह उन पर भी हमलावर हो गया. परेशान होकर ग्रामीणों ने इसकी सूचना पशुधन मंत्री मंत्री धर्मपाल सिंह से की. उन्होंने ग्रामीणों की शिकायत का तुरंत संज्ञान लेकर मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ. ललित कुमार वर्मा को फोन करके सांड को पकड़ने के निर्देश दिए. और फिर मुख्य पशु चिकित्साधिकारी ने टीम को गांव भिजवाया और टीम ने आवारा सांड को बड़ी मशक्कत के बाद ग्रामीणों की सहायता से सांड को पकड़ लिया.

इसके बाद लोडर में सांड को ग्रामीणों की मदद से लदवाकर गौशाला भिजवा दिया गया. सांड के पकड़े जाने के बाद ग्रामीणों ने राहत की सांस ली है. ग्रामीणों का कहना है कि आवारा सांड ने कई दिनों से क्षेत्र में आतंक मचा रखा था और जो भी किसान खेत देखने जाता था. सांड उसे घायल कर देता था. 2 किसानों को सांड ने घायल कर दिया और उन्हें गंभीर चोट आई है किसानों का यह भी कहना है कि सांड के आतंक से लोगों ने खेतों पर जाना बंद कर दिया था.

आवारा पशुओं से नहीं मिल रही लोगों को निजात

हाल ही में बरेली के नवाबगंज तहसील के एक गांव में सांड़ ने आतंक मचा रखा था. सांड ने एक किसान को पटक-पटक कर मार डाला था और कई किसानों को घायल भी कर दिया था. लगातार आवारा पशुओं और सांड के हमले से किसानों की जान जा रही है और आवारा पशु किसानों की खड़ी फसल को भी भारी नुकसान पहुंचा रहे हैं. 2022 के विधानसभा चुनाव में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी अपने भाषण में कहा था. अगर प्रदेश में दोबारा भाजपा की सरकार आती है तो आवारा पशुओं को पकड़ कर गौशाला भिजवाया जाएगा. सरकार आवारा पशु को पकड़ने का काम कर रही है और आवारा पशुओं को पकड़ कर गौशाला भी भिजवा रही है अब देखने वाली बात यह होगी कि उत्तर प्रदेश में कब तक आवारा पशुओं और सांड से किसानों को राहत मिलेगी.

Similar Posts