UP: गैंगस्टरों की प्रॉपर्टी पर चला बुलडोजर! बालू माफियाओं के अवैध मकानों को ढहाया गया, 8 साथियों पर भी हुई कार्रवाई

Bulldozer

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) के कानून व्यवस्था पर सीधी नजर के तहत बांदा जनपद में भी बाबा के बुलडोजर का कहर अपराधियों पर बरपा. नरैनी तहसील अंतर्गत, दो नामजद गैंगस्टर (Gangster) के अपराधियों के अवैध मकानों पर आज बुलडोजर (Bulldozer) चला और उनके अवैध मकानों को गिरा दिया गया. पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर ऑपरेशन क्लीन (Operation Clean) के आदेशानुसार अपराधियों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान में बालू कारोबारी तौफीक और उसके आठ अन्य साथियों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत अभियोग पंजीकृत कर जेल भेजा गया था. उसके आठ अन्य साथियों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की गई थी. जांच पड़ताल में अवैध तरीके से अर्जित की गई संपत्ति की पहचान कर उसे जप्त किया गया है.

पिछले साल आरोपित ने एक करोड़ की संपत्ति अर्जित की है. जिसमें एक जेसीबी मशीन, तीन ट्रक, एक स्कार्पियो, दो ट्रैक्टर को जप्त किया गया था. आरोपियों ने अमान्य वितरित एवं अवैध निर्माण की पहचान की जा रही थी. इसी क्रम में पंजीकृत आरोपित जियाउद्दीन सलीम की अमानवीय कृत्य एवं अवैध निर्माण को बुलडोजर से ध्वस्त करा दिया गया. नरैनी कोतवाली क्षेत्र में रहने वाले जियाउद्दीन और सलीम के ऊपर दर्जन भर से ज्यादा मामले चल रहे हैं. ये लोग पुलिस की पकड़ से दूर हैं.

कब्जा करके बनाए थे मकान

प्रशासन को जानकारी मिली कि इन लोगों ने दबंगई के बल पर अवैध रूप से कब्जा करके मकान बना रखा था. जिस पर कार्रवाई करते हुए एसडीएम नरैनी की अगुवाई में आज बुलडोजर द्वारा दोनों गैंगस्टर के घरों को गिरा दिया गया. इस दौरान बुलडोजर की कार्रवाई देखने के लिए बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ भी एकत्रित रही. बता दें कि जनपद में यह पहला मामला है जब किसी अपराधी का घर बुलडोजर द्वारा गिराया गया है. दोनों अपराधी बालू चोरी सहित कई संगीन मामलों में फरार चल रहे हैं.

अतिक्रमण के हिस्से को गिराया गया

वहीं एडीएम नरैनी रामेंद्र सिंह ने बताया की ये पुराने बालू माफिया है और गैंगस्टर एक्ट का मुकदमा अपराध संख्या 01/21 नरैनी थाने में दर्ज है. जांच में पाया गया सलीम पुत्र खैराती निवासी लहुरेटा और जिया उद्दीन पुत्र अब्दुल रजाक निवासी लहुरेटा दोनों ने सड़क की भूमि पर अतिक्रमण करके निर्माण किया था. जिसमे अतिक्रमण का हिस्सा ही गिराया गया है.

Similar Posts