UP: अपनी ही सरकार के अफसरों के खिलाफ बीजेपी MLA ने खोला मोर्चा, धरने पर बैठी; जानिए क्या है वजह

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अलीगढ़ (Aligarh) में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की शहर विधायक मुक्ता राजा (Mukta Raja) बुधवार को अपनी ही सरकार के अधिकारियों के खिलाफ धरने पर बैठ गईं. गांधी पार्क स्थित गांधी प्रतिमा के नीचे चिलचिलाती धूप में शहर में गंदगी, साफ सफाई, पेयजल आदि अन्य समस्याओं को लेकर विधायक ने नाराजगी जाहिर की. नगर निगम पर गंभीर आरोप लगाए. आरोप है कि जिस तरीके से शहर में पेयजल की व्यवस्था पूरी तरह से चरमराई हुई है, साथ ही साफ-सफाई की व्यवस्था भी काफी खराब है. भीषण गर्मी में पानी की कमी लोगों को परेशान कर रही है.

खास बता यह है कि बीजेपी की शहर विधायक मुक्ता राजा दर्जनों पार्षदों के साथ ही उनके पति और पूर्व विधायक संजीव राजा भी धरने पर बैठे हुए हैं. बता दें, विधायक ने करीब एक हफ्ता पहले एक पत्र लिखकर नगर आयुक्त को इन समस्याओं के बारे में अवगत कराया था और समाधान नहीं होने पर धरने पर बैठने की बात कही थी.

‘जिन्होंने हमें वोट देकर विधायक बनाया, उनकी समस्या उठाना वाजिब’

मुक्ता राजा ने कहा कि क्षेत्र के लोग हमारे पास शिकायत लेकर पहुंचते हैं और उनकी शिकायत करना वाजिब भी है, क्योंकि उन्होंने हमें वोट देकर विधायक बनाया हैं. अगर हम उनकी समस्या को नहीं उठाएंगे तो किस की समस्या को उठाएंगे. क्षेत्र में पानी का बड़ा संकट है, साथ ही समय से साफ-सफाई नहीं हो पा रही है. जिसकी वजह से आम जनमानस को काफी परेशानी हो रही है. गर्मी के समय पानी की बहुत जरूरत होती है, लेकिन नगर निगम के द्वारा शुद्ध पेयजल की व्यवस्था समय से नहीं कराई जा रही है, इसे लेकर लोग आए दिन शिकायत करते हैं.

एक हफ्ते पहले लिखा था पत्र, फिर भी नहीं सुधरे हालात

शहर विधायक मुक्ता राजा का कहना है कि उनके द्वारा नगर निगम को एक पत्र लिखा गया था, जिसमें मांग की गई थी कि शहर में पेयजल व्यवस्था और सफाई की व्यवस्था को दुरुस्त कराया जाए, लेकिन एक सप्ताह बीत जाने के बावजूद भी नगर निगम की तरफ से न तो साफ-सफाई की व्यवस्था में सुधार किया गया है और न ही पेयजल की व्यवस्था में सुधार किया गया है.

Similar Posts