Robbed In France : अन्नू कपूर के बाद डायरेक्टर हंसल मेहता ने भी फ्रांस में हुई चोरी की सुनाई आपबीती, कहा- न तो नकदी बची थी और न ही कार्ड

Hansal Mehta

वेटर एक्टर अन्नू कपूर (Annu Kapoor) ने हाल ही में एक वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया था जिसमें उन्होंने बताया था कि फ्रांस की जर्नी करते समय उनके साथ लूटपाट की गई थी. अन्नू कपूर का ये वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो गया. अन्नू कपूर के बाद अब फिल्म निर्देशक हंसल मेहता (Hansal Mehta) ने भी अपने अनुभव को सोशल मीडिया के जरिए साझा किया है. उन्होंने बताया कि अन्नू कपूर की ही तरह उन्होंने भी इस तरह की स्थिति का सामना किया. उस वक्त उनके पास न तो पैसे ही बचे थे और न ही कार्ड. वो अपनी बेटियों के साथ फ्रांस गए थे.

अन्नू कपूर के बाद हंसल मेहता ने भी सुनाई फ्रांस की आपबीती

हंसल मेहता ने अपनी प्रांस की इस कहानी को ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया. अपने ट्वीट्स में उन्होंने खुलासा करते हुए कहा कि जब वो अपनी बेटियों के साथ थे, उस वक्त उनके पास न तो पैसे थे और न ही कार्ड. उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा कि, ‘मैंने अन्नू कपूर सर का वीडियो देखा, जिसमें वो बता रहे हैं कि किस तरह फ्रांस में कुछ लोगों ने उनके बैग को चुरा ले गए जिसमें उनका सारा सामान, कार्ड और कैश थे. कुछ ऐसा ही मेरे साथ भी हुआ जब मेरा बटुआ किसी ने उठा लिया था और मैं सचमुच बिना नकदी, डेबिट या क्रेडिट कार्ड के फंस गया था. इससे ज्यादा कुछ और जो आप बहुत ज्यादा वॉयलेटेड महसूस कर सकते हैं.’

हंसल मेहता ने आगे ट्वीट करते हुए कहा कि, ‘मेरी बेटियां मेरे साथ थीं और हमें लाने के लिए अपनी पत्नी को फोन करना पड़ा क्योंकि हमारे पास अपने होटल में जाने के लिए और भुगतान करने के लिए पैसे नहीं थे. बाकी की जर्नी और परिवार के साथ बिताई जाने वाली छुट्टी बर्बाद हो गई थी. इस चोरी की वजह से बहुत ज्यादा चिंता भी हुई और असुविधा भी. कार्ड ब्लॉक करा दिए गए थे और वो चोरों के लिए पूरी तरह से बेकार थे. शायद ही कुछ नकद था. कहानी का मोरल ये है कि जब भी आप फ्रांस आएं तो लुटेरों से सावधान रहें. भारत को हमेशा अनावश्यक रूप से बदनाम किया जाता है.’

डायरेक्टर ओनिर के साथ भी हो चुका है ऐसा

हंसल मेहता के इस तरह से ट्वीट किए जाने के बाद डायरेक्टर ओनिर ने भी कहानी का अपना पक्ष शेयर किया. उन्होंने कहा कि उनकी भी पेरिस में जेबकतरे ने जेब काट ली. उन्होंने कहा कि, ‘मेट्रो में मेरी जेब किसी ने काट ली लेकिन एयरपोर्ट जाने के रास्ते में मेरा मोबाइल चालू था. मेरे साथ जर्ननी कर रहे एक फिल्म निर्माता ने रेस्टोरेंट में खाना खाया जहां उन्होंने 75 हजार का बिल दिया, मतलब रेस्टोरेंट में उस कार्ड का मिसयूज हुआ. हमें आधी रात को इसका अहसास हुआ. अगले दिन शिकायत भी की लेकिन उसमें से कुछ भी नहीं निकला.’

Similar Posts