PM मोदी के जम्मू कश्मीर दौरे से पहले सक्रिय हुए आतंकी, सुरक्षाबलों ने 24 घंटे में 2 मुठभेड़ में 6 आतंकवादियों को उतारा मौत के घाट

Terrorist

जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) में एक बार फिर आतंकी हमले बढ़ते दिख रहे हैं. पिछले 24 घंटे में सुरक्षाबलों ने आतंकियों को मुंहतोड़ जवाब देते हुए 6 आतंकवादियों (Terrorists) को मौत के घाट उतार दिया है. यह आतंकी हमले (Terrorist Attack) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के जम्मू कश्मीर के दौरे से पहले हुए हैं. पीएम मोदी 24 अप्रैल को दो दिन के जम्मू कश्मीर के सांबा में एक कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे. शुक्रवार को जहां मुठभेड़ हुई है, वो जगह पीएम मोदी के कार्यक्रम स्थल से महज 17 किलोमीटर दूर है. ऐसे में सुरक्षाबलों के लिए सुरक्षा सुनिश्चित करना और शांति बनाए रखना खास चुनौती बन गई है.

जम्मू कश्मीर पुलिस के अनुसार बारामूला जिले के मालवाह इलाके में गुरुवार को शुरू हुई मुठभेड़ में अब तक 4 आतंकी मार गिराए गए हैं. इनमें पाकिस्तान समर्थित आंतकी संगठन लश्कर ए तैयबा का कमांडर यूसुफ कांटरू भी शामिल है. यह आंतकी सुरक्षाबलों की टॉप 10 फरार आंतकियों की सूची में शामिल था. जानकारी के अनुसार गुप्त सूचना के आधार पर बडगाम पुलिस और सेना ने मालवाह इलाके में संयुक्त रूप से तलाशी अभियान शुरू किया था. इस दौरान घात लगाकर बैठे आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर गोलीबारी शुरू कर दी. सुरक्षाबलों ने इसका मुंहतोड़ जवाब दिया.

बारामूला में मारा गया लश्कर कमांडर

हालांकि इस गोलीबारी में चार जवान घायल हो गए थे. कुछ ही देर में यह गोलीबारी बड़े एनकाउंटर में बदल गई. लिस ने जानकारी दी है कि आतंकी यूसुफ कांटरू पहले आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन में था. उसे 2005 में गिरफ्तार किया गया था. 2008 में उसकी रिहाई हुई. लेकिन बाद में वह 2017 में फिर आतंकी संगठन में शामिल हो गया था और लोगों की हत्याएं करनी शुरू कर दी थीं. इसके बाद वह हिजबुल छोड़कर लश्कर ए तैयबा में शामिल हो गया था. पुलिस का कहना है कि अभी अन्य मारे गए आतंकियों की पहचान की जा रही है.

सुंजवां में आतंकी हमले में जवान शहीद

वहीं जम्मू के बाहरी इलाके में शुक्रवार तड़के सेना के शिविर के पास आतंकवादियों के सीआईएसएफ की एक बस को निशाना बनाए जाने के बाद अर्द्धसैनिक बल का एक जवान शहीद हो गया है. वहीं इस दौरान सुरक्षाबलों ने दो आतंकवादियों को मार गिराया है. अफसरों के अनुसार इस दौरान शुरू हुई मुठभेड़ में 9 जवान घायल भी हो गए हैं. सुंजवां में मुठभेड़ ऐसे वक्त में हुई है जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सांबा जिले में प्रस्तावित दौरे के मद्देनजर दो दिन पहले से जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है.

पीएम मोदी के दौरे को लेकर सुरक्षा चाकचौबंद

अधिकारियों ने बताया कि प्राधिकारियों ने मोबाइल इंटरनेट सेवाएं निलंबित करने के अलावा एहतियाती कदम के तौर पर इलाके में तथा उसके आसपास के क्षेत्रों में सभी निजी और सरकारी स्कूलों में कक्षाएं निलंबित कर दी है. केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) के अधिकारियों ने बताया कि 15 कर्मियों को सुबह की ड्यूटी के लिए लेकर जा रही बस पर चड्ढा कैम्प इलाके के समीप सुबह चार बजकर 25 मिनट पर हमला कर दिया गया. अर्द्धसैन्य बल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि आतंकवादियों ने बस पर गोलियां चलायी और ग्रेनेड फेंका, जिसमें सहायक सब-इंस्पेक्टर (एएसआई) एस पी पाटिल शहीद हो गए. बस में बैठे दो अन्य लोग घायल हो गए हैं.

Similar Posts