PLI scheme: 14 सेक्टर्स में आया 2.34 लाख करोड़ रुपये का निवेश, 5 साल में 60 लाख लोगों को मिलेगा रोजगार

PLI Scheme

केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव (PLI Scheme) योजना का असर दिखने लगता है. अलग-अलग मंत्रालयों से एकत्रित आंकड़ों के मुताबिक, डोमेस्टिक मैन्युफैक्चरिंग को प्रोत्साहित करने के लिए देश की पीएलआई स्कीम के तहत 14 सेक्टर्स में 2.34 लाख करोड़ रुपये निवेश का प्रस्ताव मिला है. ऑटोमोबाइल और ऑटो कम्पोनेंट्स, एडवांस केमिस्ट्री सेल बैटरियों, स्पेशियलिटी स्टील और हाई-एफिशिएंसी सोलर पैनल (Solar Panel) सेक्टर्स में सबसे ज्यादा निवेश आया है. PLI स्कीम की घोषणा 2021-22 के बजट में की गई थी. इसमें 1.97 लाख करोड़ रुपये खर्च करने का प्रस्ताव दिया गया था. इसमें 14 प्रमुख सेक्टर्स को शामिल किया गया है.

आपको बता दें कि PLIC स्कीम के तहत देश के अंदर उत्पादन बढ़ाने वाली कंपनियों को इन्सेंटिव दिया जा रहा है. इस स्कीम के तहत न केवल विदेशी कंपनियों को साथ ही घरेलू कंपनियों को भी देश में उत्पादन बढ़ाने के लिये प्रोत्साहित किया जा रहा है.

प्रोडक्शन बढ़ाने के लिये कंपनियों को निवेश करना पड़ेगा वहीं प्रोडक्शन बढ़ने के साथ ही रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे. मैन्युफैक्चरिंग बढ़ने के इन फायदों को देखते हुए सरकार उत्पादन बढ़ाने वाली कंपनियों को इन्सेंटिव ऑफर कर रही है. पीएलआई स्कीम 5 साल के लिये मंजूर की गयी है.

खबर अपेडट की जा रही है….

Similar Posts