इन तीन कारणों वजह से मुसलमानों के लिए सूअर का मांस है हराम, जानिए

1. इस्लाम की पवित्र किताब में इस विषय पर जानकारी दी गई है। पवित्र किताब के अनुसार मुसलमान ऐसा कोई भी जानवर का मांस नहीं खा सकते जो हलाल ना हो और उसे जिबह न किया जाए क्योंकि इस्लाम में मरे हुए जानवर का मांस खाना हराम माना गया है।

2. मुसलमान ऐसे किसी भी जानवर का मांस नहीं खा सकते जिसे अल्लाह के नाम पर जिबह ना किया गया हो इस तरह के किसी भी को मांस खाना हराम है

3. आपको बता दें कि सूअर का मांस खाने से हमारे शरीर में लगभग 72 प्रकार की बीमारियां होने की संभावना रहती है। विज्ञान के अनुसार इस बात की पुष्टि भी की जा चुकी है विज्ञान भी सूअर के मांस को खाने से मना करता है।

हैरानी की बात यह है कि जो बात विज्ञान हमें आज सिखा रहा है, उसे हम मुसलमानों के पवित्र किताब ने हमें लगभग 14 साल साल पहले ही बताया गया है।चार सवालों के जबाब देकर जीते हजारो रूपये Click Here ,  यहाँ क्लिक करे 

You might also like