दोस्तों हम आपको बता दे की स्मिथ किसी एक टेस्ट सीरीज में ज्यादा रन बनाने के मामले में गावस्कर के बराबर पहुंच गए हैं। स्मिथ ने एशेज में 4 मैचों की 7 पारियों में 110.57 की एवरेज से 774 रन बनाए, जिसमें 2 शतक, 3 अर्धशतक और एक दोहरा शतक शामिल रहा। वहीं गावस्कर ने भी 1970-71 में विंडीज के खिलाफ खेली सीरीज में इतने ही रन बनाए थे। गावस्कर ने 4 शतक और 3 अर्धशतक लगाए थे। यह गावस्कर की डेब्यू सीरीज थी जिसमें उन्होंने आते ही धमाका कर दिया था।

तोड़ सकते थे ब्रैडमैन का रिकाॅर्ड

किसी एक सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकाॅर्ड ऑस्ट्रेलिया के ही महान क्रिकेटर रहे सर डाॅन ब्रैडमैन के नाम है। ब्रैडमैन ने 1930 में 5 मैचों की 7 पारियों में 974 रन बनाए थे। स्मिथ के पास उन्हें पीछे छोड़ने का सुनहरा माैका था, अगर वो तीसरे टेस्ट से बाहर ना होते। स्मिथ जोफ्रा आर्चर की बाउंसर पर दूसरे मैच में चोटिल हो गए थे जिस कारण वह अगले मैच से बाहर रहे। अगर वो खेलते तो हो सकता था कि किसी एक सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकाॅर्ड आज स्मिथ के नाम होता।

ऐसा करने वाले 5वें बल्लेबाज

स्मिथ किसी एक टेस्ट सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में संयुक्त 12वें नंबर पर पहुंच गए हैं। साथ ही वो एशेज सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में 5वें नंबर पर पहुंच गए हैं। स्मिथ से पहले डॉन ब्रैडमैन ने 1930 में 974 रन, वाली हेमंड ने 1928-29 में 905 रन, मार्क टेलर ने 1989 में 839 और ब्रैडमैन ने 1936-37 में एशेज दाैरान 810 रन बनाए थे। स्मिथ का इस बार परफाॅर्मेंस गजब रहा। वह सिर्फ एक पारी में 50 से अधिक रन बनाने से चूके। स्मिथ ने इस सीरीज में 144, 142, 92, 211, 82, 80 और 23 रनों की पारियां खेलीं।

क्रिकेट की अन्य खबरें

लिंक कॉपी हो गया