अलास्का कोर्ट ने माना कि गिना ने अपने प्रेमी माइकल गोन्जालेज़ में उस समय पेट्रोल डालकर आग लगा दी थी जब वह घर में सोफे पर सो रहा था। आग लगने के बाद माइकल मदद के लिए चिल्लाने लगा, लेकिन आरोपी गिना ने घर का दरवाजा बंद कर दिया था और वहां से फरार हो गई। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, कोर्ट ने गिना को 99 साल की सजा सुनाई थी, लेकिन बाद में 39 साल की सजा को घटा दिया। 

इस हत्या लिए उसकी रिहाई के बाद उसे 10 साल की परिवीक्षा भी दी गई थी। सजा सुनाए जाने के बाद गिना कोर्ट में रोने लगी। उसने जज को बताया कि उस दौरान उसकी मानसिक हालत ठीक नहीं थी। गिना ने जज से कहा, “मैंने जो किया उसका मुझे अफसोस है। मैं उसे कभी वापस नहीं ला सकती।”

उसने कहा, ‘मेरा माइकल को मारने का कोई मकसद नहीं था। माइकल के साथ जो कुछ भी हुआ, वह मेरे दिमागी हालत के कराण हुआ था। गिना के भाई रेजिनाल्ड कार्नी ने कहा कि उसने 20 साल की उम्र में ड्रग्स के लेना शुरू कर दिया था। गिना मारीयुआना, कोकेन, ऑक्सीटोसिन लेती थी। जनवरी 2012 में वह लगभग दो सप्ताह के लिए गायब हो गई थी।

अजब गजब की अन्य खबरें

लिंक कॉपी हो गया