फ्लाइट, उड़न तश्तरी, खटमल जैसे कोडवर्ड से बातें करते थे आतंकी, काली डायरी को डिकोड कर रहे हैं एटीएस के विशेषज्ञ

masiruddin minhas

लखनऊ। अंसार गजवातुल हिंद के स्लीपर सेल के आतंकियों का मकसद बड़े धमाकों के साथ वैमनस्यता फैलाना था। धार्मिक जुलूस के साथ ही भीड़-भाड़ वाले स्थान उसके निशाने पर थे। इस आपरेशन का संदेश आतंक के आकाओं ने मिनहाज व मुशीर को फ्लाइट, उड़न तश्तरी, खटमल जैसे कोडवर्ड में दिया था। मिनहाज के पास मिली एक काली रंग की डायरी में ऐसे ही कई कोडवर्ड मिले जो हैरत में डालते हैं। इनमें से कई कोडवर्ड एटीएस ने डिकोड कर लिया है। कई कोडवर्ड को सुलझाने के लिए विशेषज्ञों की मदद ली जा रही है।
11 जुलाई को गिरफ्तार किए गए मिनहाज और मुशीरुद्दरीन के पास से एक डायरी में कश्मीर और पाकिस्तान में बैठे हैंडलर से फोन पर बात करने के लिए ‘फ्लाइट’ शब्द का इस्तेमाल किया गया है और ई रिक्शा के लिए उड़न तश्तरी। इसी तरह मिनहाज से मिलने आने वाले दोनों कमाण्डरों के लिये कोडवर्ड में लिखा गया था कि दोस्त आ रहे हैं गोश्त पकाओ। एक्यूआईएस का सरगना उमर हलमंडी संभल का रहने वाला है जो 21 साल पहले एक्यू आईएस के पहले इण्डियन कमांडर असीम उमर के साथ ही भागा था। असीम के मारे जाने के बाद से ही भारत में एक्यूआईएस की कमान उमर हलमंडी के हाथ में हैं। उसने भी पश्चिम यूपी में बड़े पैमाने पर अपना बेस तैयार किया है। साथ ही बकरीद के पहले तौहीद और मूसा के लखनऊ आने के संदेश भी मिले है।

1. जांच एजेंसियों को डायरी से मिली जानकारी से यह पता चला है की जो पिस्टल मिनाहज के यहाँ से बरामद हुई थी उसका कोड था ‘3 नंबर की किताब’ ।
2. इसके साथ ही प्रेशर कुकर बम का कोड वर्ड था ‘9नंबर की किताब’।
3. टाइम बम को पटाखा, सुतली से बनाए जाने वाले देसी बम को रस्सी कोड वर्ड में लिखा हुआ है ।
4. ई रिक्शा को कोड वर्ड में उड़न तश्तरी लिखा गया है।
5. खटमलों को शीरमाल और कबाब खिलाने हैं जिसका मतलब कोई बड़ा हमला विस्फोट के रूप में करना है। डायरी में ये संदेश दो बार लिखा हुआ था।इसका मतलब ये संदेश दो बार मिनाहज को मिला होगा।
6.आतंकी बिना रेजिस्ट्रेशन के ई रिक्शा ढूंढने के लिए ‘सवारी वाला काम’ कोड वर्ड का इस्तेमाल कर रहे थे।
7. आतंकी कश्मीर या देश के बाहर फोन पर बात करते समय ग्रुप को फ्लाइट के नाम से पुकारते थे। आतंकी कहते थे कि ‘पहली फ्लाइट, दूसरी फ्लाइट’ जा चुकी है। पहली टीम घर से बाहर निकल गई है यानी पहली फ्लाइट चली गई है यह कोड भाषा के इतने आदि हो गए थे कि मोड्यूल के किसी भी सदस्य ने नाम का शब्द कभी अपने मुंह से नहीं निकाला था।
8. डायरी के अंदर कई उर्दू शब्द भी अलग अलग पन्नो पर लिखे हुए है जिसमे या खुदा,मिशन अल्लाह जैसे शब्द है जिनके बारे में एटीएस अभी पता कर रही है कि इनको लिखने का क्या मतलब है।
9. एक संदेश भी यूपी एटीएस ने ब्रेक किया है जिसमे कहा गया है कि दोस्त आ रहे है गोश्त पकाओ। इसका मतलब लखनऊ तौहीद और मूसा आने वाले थे।
10. डायरी में एक कोड ये भी लिखा था की किताब पढ़ ली है। यानि रेकी कर ली है। किताब में 7 पेज है यानी 7 जगह वारदात को अंजाम दिया जा सकता है।
11. डायरी में मिले एक और कोड ने जांच एजेंसियों को सकते में डाल दिया जिसमें लिखा था कि किताब छप गई है यानी बम बन गया है किताब पहुंचा दी है यानि हमला करने वाला सामान जगह पर रख दिया है।
12. प्रेशर कुकर बम,हथियार जैसी चीजों को रखने के लिए लाइब्रेरी , कूड़ेदान या रैक शब्दों का प्रयोग किया जाता था जिसका डायरी में जिक्र है।
13. बकरीद से पहले ब्लास्ट करने की योजना के लिए कुर्बानी शब्द का कोड वर्ड डायरी में लिखा हुआ है।

यह भी पढ़ेंः-एटीएस ने कराया मिन्हाज-मुशीर से ‘सच का सामना’, 10 दिनों की कॉल डिटेल देख आतंकी हैरत में

The post फ्लाइट, उड़न तश्तरी, खटमल जैसे कोडवर्ड से बातें करते थे आतंकी, काली डायरी को डिकोड कर रहे हैं एटीएस के विशेषज्ञ appeared first on Quick Joins.

Punjab, Ludhiana, Jalandhar, Amritsar, Patiala, Sangrur, Gurdaspur, Pathankot, Hoshiarpur, Tarn Taran, Firozpur, Fatehgarh Sahib, Faridkot, Moga, Bathinda, Rupnagar, Kapurthala, Badnala, Ambala,Uttar Pradesh, Agra, Bareilly, Banaras, Kashi, Lucknow, Moradabad, Kanpur, Varanasi, Gorakhpur, Bihar, Muzaffarpur, East Champaran, Kanpur, Darbhanga, Samastipur, Nalanda, Patna, Muzaffarpur, Jehanabad, Patna, Nalanda, Araria, Arwal, Aurangabad, Katihar, Kishanganj, Kaimur, Khagaria, Gaya, Gopalganj, Jamui, Jehanabad, Nawada, West Champaran, Purnia, East Champaran, Buxar, Banka, Begusarai, Bhagalpur, Bhojpur, Madhubani, Madhepura, Munger, Rohtas, Lakhisarai, Vaishali, Sheohar, Sheikhpura, Samastipur, Saharsa, Saran, Sitamarhi, Siwan, Supaul,Gujarat, Ahmedabad, Vadodara, Surat, Rajkot, Vadodara, Junagadh, Anand, Jamnagar, Gir Somnath, Mehsana, Kutch, Sabarkantha, Amreli, Kheda, Rajkot, Bhavnagar, Aravalli, Dahod, Banaskantha, Gandhinagar, Bhavnagar, Jamnagar, Valsad, Bharuch , Mahisagar, Patan, Gandhinagar, Navsari, Porbandar, Narmada, Surendranagar, Chhota Udaipur, Tapi, Morbi, Botad, Dang, Rajasthan, Jaipur, Alwar, Udaipur, Kota, Jodhpur, Jaisalmer, Sikar, Jhunjhunu, Sri Ganganagar, Barmer, Hanumangarh, Ajmer, Pali, Bharatpur, Bikaner, Churu, Chittorgarh, Rajsamand, Nagaur, Bhilwara, Tonk, Dausa, Dungarpur, Jhalawar, Banswara, Pratapgarh, Sirohi, Bundi, Baran, Sawai Madhopur, Karauli, Dholpur, Jalore,Haryana, Gurugram, Faridabad, Sonipat, Hisar, Ambala, Karnal, Panipat, Rohtak, Rewari, Panchkula, Kurukshetra, Yamunanagar, Sirsa, Mahendragarh, Bhiwani, Jhajjar, Palwal, Fatehabad, Kaithal, Jind, Nuh, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, #बिहार, #मुजफ्फरपुर, #पूर्वी चंपारण, #कानपुर, #दरभंगा, #समस्तीपुर, #नालंदा, #पटना, #मुजफ्फरपुर, #जहानाबाद, #पटना, #नालंदा, #अररिया, #अरवल, #औरंगाबाद, #कटिहार, #किशनगंज, #कैमूर, #खगड़िया, #गया, #गोपालगंज, #जमुई, #जहानाबाद, #नवादा, #पश्चिम चंपारण, #पूर्णिया, #पूर्वी चंपारण, #बक्सर, #बांका, #बेगूसराय, #भागलपुर, #भोजपुर, #मधुबनी, #मधेपुरा, #मुंगेर, #रोहतास, #लखीसराय, #वैशाली, #शिवहर, #शेखपुरा, #समस्तीपुर, #सहरसा, #सारण #सीतामढ़ी, #सीवान, #सुपौल,

You might also like