नियंत्रण रेखा ( LAC ) पर पिछले 9 महीनों से चल रहे तनाव की बर्फ पिछलने लगी है। लंबे समय के बाद आपसी बताचीत के जरिए चीन और भारत ने अपने सनिकों को पैंगोंग से पीछे हटा दिया।

दोनों देशों की सेनाएं पैंगोंग सो के उत्तरी और दक्षिणी किनारे से पीछे हटी हैं। यही नहीं कई महीनों से तैनात किए गए हथियारों को भी वापस ले जाया गया है। लेकिन अब जो खबर सामने आई उसके मुताबिक पैंगोंग से पीछे हटे जवानों को चीन ने एलएसी के पास ही तैनात कर रखा है। जो बताता है कि ये पैंगोंग से सैनिकों को हटाना सिर्फ चीन का चकमा था।

सामने आई सैटेलाइट की ताजा तस्वीर में दावा किया गया है कि चीन ने पीएलए जवानों को रुटोग काउंटी बेस पर भेज दिया है। इसके बाद हमेशा से धोखाधड़ी करने वाले ड्रैगन की मंशा पर फिर से सवाल खड़े होने लगे हैं।

आपको बता दें कि चीन ने अपने सैनिकों को रुटोग के जिस इलाके में तैनात किया है यह बेस पैंगोंग सो इलाके से सिर्फ 100 किलोमीटर और मोल्डो से 110 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

अजब गजब,समाचार की अन्य खबरें

लिंक कॉपी हो गया