Natural Sugar : चीनी की जगह इस्तेमाल करें ये प्राकृतिक स्वीटनर, सेहत को भी मिलेंगे कई फायदे

Natural Sugar

खाने के स्वाद को बढ़ाने के लिए अधिकतर व्यंजनों में चीनी का इस्तेमाल किया जाता है. बहुत से लोग मीठे के शौकीन होते हैं. ऐसे में चीनी से बने कई व्यंजनों का सेवन खूब करते हैं. लेकिन चीनी का अधिक सेवन आपकी सेहत को नुकसान पहुंचाता है. चीनी का अधिक सेवन डायबिटीज और वजन बढ़ने का कारण बनता है. इसलिए जरूरी है कि एक सीमित मात्रा में चीनी (Natural Sugar) का सेवन करें. आप स्वीटनर के रूप में चीनी के अलावा कई और हेल्दी विकल्प भी चुन सकते हैं. ये आपके खाने को मीठा स्वाद देंगे. ये बहुत हेल्दी होते हैं. एक सीमित मात्रा में इनका सेवन आपकी सेहत (Sugar) को कोई नुकसान नहीं पहुंचाएगा. आइए जानें आप कौन हेल्दी विकल्प चुन सकते हैं.

गुड़

गुड़ एक प्राकृतिक स्वीटनर है. इसे गन्ने से बनाया जाता है. ये एंटीऑक्सीडेंट और मिनरल से भरपूर होता है. ये पाचन तंत्र को स्वस्थ रखता है. ये शरीर को डिटॉक्स करने में भी मदद करता है. गुड़ का सेवन शरीर के तापमान को भी कंट्रोल करता है. आप चीनी की जगह गुड़ का सेवन कर सकते हैं.

शहद

शहद भी एक प्राकृतिक स्वीटनर है. ये पोषक तत्वों से भरपूर होता है. आप चीनी की जगह शहद का इस्तेमाल कर सकते हैं. स्वादअनुसार इसका सेवन करें. ये शरीर को कोई नुकसान भी नहीं पहुंचाता है.

कोकोनट शुगर

कोकोनट शुगर को नारियल से बनाया जाता है. ये चीनी की तरह रिफाइंड नहीं होती है. अगर आप वजन कम करना चाहते हैं तो इस चीनी का सेवन कर सकते हैं. ये कार्बोहाइड्रेट और फ्रुक्टोज से भरपूर होती है. ये आपकी सेहत के लिए फायदेमंद है. आप चाय या कॉफी में इसका इस्तेमाल कर सकते हैं.

मेपल सिरप

मेपल सिरप कैल्शियम, पोटैशियम, आयरन, जिंक और मैंगनीज आदि जैसे पोषक तत्वों से भरपूर होता है. इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं. इसमें कैलोरी भी कम मात्रा में होती है. आप चीनी की जगह मेपल सिरप का इस्तेमाल कर सकते हैं. डायबिटीज के रोगी इसे इस्तेमाल करने से पहले एक बार डॉक्टर से जरूर सलाह लें.

खजूर

आप चीनी की जगह खजूर का इस्तेमाल कर सकते हैं. ये शुगर की जगह इस्तेमाल किया जाने वाला एक हेल्दी विकल्प है. डायबिटीज के रोगियों के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है. आप इसका इस्तेमाल सिरप के रूप में भी कर सकते हैं.

(इस लेख में दी गई जानकारियां सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. TV9 Hindi इनकी पुष्टि नहीं करता है. किसी विशेषज्ञ से सलाह लेने के बाद ही इस पर अमल करें.)

Similar Posts