Maharashtra crisis: सुप्रीम कोर्ट पहुंचा महाराष्ट्र का सियासी उठापटक, कांग्रेस नेता ने दायर की याचिका; बागी विधायकों के खिलाफ अदालत से की बड़ी मांग

Supreme Court

Maharashtra political crisis: महाराष्ट्र में चल रही सियासी उठपटक के बीच कांग्रेस नेता जया ठाकुर (Jaya Thakur) ने सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में याचिका दायर की है. अपनी याचिका में उन्होंने अदालत से ये मांग की है कि शिवसेना के बागी विधायकों के खिलाफ दलबदल कानून के तहत कार्रवाई की जानी चाहिए. इसके अलावा उन्होंने अपनी याचिका में दलबदल करने वाले विधायकों के चुनाव लड़ने पर पांच साल तक रोक लगाने की मांग की है. जया ने अपनी याचिका में कहा है कि विधायकों का दलबदल असंवैधानिक है. जया ठाकुर ने कहा कि राजनीतिक दल देश के लोकतांत्रिक ढांचे को बिगाड़ने में लगे हैं, इसलिए इस मामले में कोर्ट के दखल की तुरंत जरूरत है. जया ने कहा कि उनकी दलील लोकतंत्र में दलगत राजनीति के महत्व और संविधान के तहत सुशासन की सुविधा के लिए सरकार के भीतर स्थिरता की आवश्यकता से संबंधित है.

सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करने वाली जया ने कहा, ‘हमें असहमति और दलबदल के बीच की रेखा को स्पष्ट करने की आवश्यकता है, ताकि लोकतांत्रिक मूल्यों को अन्य संवैधानिक विचारों के साथ संतुलन में रखा जा सके.’ उन्होंने कहा कि लोकतांत्रिक मूल्यों और संवैधानिक विचारों के बीच संतुलन बनाए रखने में अध्यक्ष की भूमिका महत्वपूर्ण है. आवेदन में 2017 में मणिपुर विधानसभा और 2019 में कर्नाटक विधानसभा और 2020 में मध्य प्रदेश विधानसभा में हुए राजनीतिक संकट का भी उल्लेख किया गया है. जया ठाकुर ने अपनी याचिका में कहा है कि पिछले साल भी उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर बताया था कि कैसे दलबदल विरोधी कानून को धता बताकर सरकार गिराई जा रही है.

खबर अपडेट की जा रही है…

Similar Posts