IPL 2022: दिल्ली कैपिटल्स ने Rishabh Pant को बांधा हुआ है? ये क्या बोल गए रवि शास्त्री!

Rishabh Pant Ipl 2022 Pti

आईपीएल (IPL 2022) में दिल्ली कैपिटल्स का प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा है. टीम 8वें नंबर पर है और उसे पांच में से 2 में जीत और 3 में हार मिली है. दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान ऋषभ पंत (Rishabh Pant) भी दबाव में दिख रहे हैं, ये मानना है टीम इंडिया के पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री का, जिन्होंने पंत की फ्रेंचाइजी (Delhi Capitals) से मांग की है कि वो अपने कप्तान से कुछ जिम्मेदारियां वापस लें. शास्त्री के मुताबिक ज्यादा जिम्मेदारियों की वजह से पंत खुलकर नहीं खेल पा रहे हैं. पंत को बेहद करीब से जानने वाले शास्त्री का मानना है कि इस खिलाड़ी को अच्छे प्रदर्शन के लिए खुली छूट की जरूरत है.

रवि शास्त्री ने स्टार स्पोर्ट्स के साथ बातचीत में कहा, ‘मैं दिल्ली कैपिटल्स में देखना चाहता हूं कि कप्तान ऋषभ पंत खुलकर खेलें. भूल जाएं कि वो टीम के कप्तान हैं. पंत को उनका नेचुरल गेम खेलने दें. दूसरे खिलाड़ियों को भी जिम्मेदारियां दें क्योंकि अगर पंत का बल्ला चला तो उनकी कप्तानी भी अच्छी लगेगी और दिल्ली कैपिटल्स की टीम के नतीजों में भी आप बदलाव देखेंगे.’

पंत की बल्लेबाजी नहीं सोच में दिक्कत!

रवि शास्त्री ने कहा कि पंत की बल्लेबाजी में कोई दिक्कत नहीं है. शास्त्री बोले, ‘उन्हें समय देने की जरूरत है. मुझे नहीं लगता कि पंत की बल्लेबाजी में दिक्कत है. मुझे लगता है उन्हें सोच में बदलाव की जरूरत है, पंत को थोड़ा समय लेना चाहिए और उसके बाद वो खुलकर खेलें. उन्हें जोखिम लेकर खेलने दें क्योंकि यही उनकी खासियत है.’

पंत के बल्लेबाजी आंकड़े खराब नहीं

बता दें इस सीजन में पंत के बल्लेबाजी आंकड़े इतने भी खराब नहीं हैं. ये खिलाड़ी पांच मैचों में 36 की औसत से 144 रन बना चुका है. पंत का स्ट्राइक रेट भी 146 से ज्यादा का है. हालांकि पंत से इससे अच्छे प्रदर्शन की आस है. दिल्ली कैपिटल्स के लिए दिक्कत की बात ये है कि उसका मिडिल ऑर्डर नहीं चल रहा है. खासतौर पर रोवमैन पॉवेल बुरी तरह फ्लॉप रहे हैं. पॉवेल पांच मैचों में 31 रन ही बना सके हैं.

बता दें पंत से पहले रवि शास्त्री ने विराट कोहली पर भी बड़ी बात कही थी. रवि शास्त्री का मानना था कि विराट कोहली थके हुए हैं और उन्हें लंबे ब्रेक की जरूरत है. शास्त्री के मुताबिक विराट के अंदर अब भी 5-6 साल का क्रिकेट बचा है. विराट और पंत को रवि शास्त्री काफी करीब से जानते हैं इसलिए शास्त्री के इस बयान को गंभीरता से लिया जा सकता है.

Similar Posts