INS Vikrant Fund Case: बॉम्बे HC ने नील सोमैया को गिरफ्तारी से दी अंतरिम राहत, 28 अप्रैल तक अरेस्ट नहीं होगे बीजेपी नेता के बेटे

Neil Kirit Somaiya

आईएनएस विक्रांत फंड धोखाधड़ी मामले (INS Vikrant Fund Case) में बीजेपी नेता किरीट सोमैया के बेटे नील सोमैया को गिरफ्तारी से अंतरिम राहत मिल गई है. नील सोमैया को 28 अप्रैल तक के लिए गिरफ्तारी से अंतरिम राहत मिल गई है. बॉम्बे हाई कोर्ट (Bombay High Court) से बीजेपी नेता के बेटे को फिलहाल गिरफ्तारी से राहत मिल गई है. बता दें कि यह मामला बेड़े से बाहर किए गए विमान वाहक आईएनएस विक्रांत के संरक्षण के लिए जमा किए गए पैसे की कथित हेराफेरी का है.इस मामले में बीजेपी नेता किरीट सोमैया के बेटे नील सोमैया (Neil Somaiya) को 28 अप्रैल तक गिरफ्तारी से अंतरिम राहत मिल गई है.

इस मामले की सुनवाई के दौरान जस्टिस अंजुआ प्रभुदेसाई की सिंगल बेंच ने कहा कि गिरफ्तारी के हालात में नील को 50 हजार रुपये के निजी बंड पर रिहा कर दिया जाए. बता दें कि एक पूर्व सैन्यकर्मी की शिकायत पर 6 अप्रैल को ट्रांबे थाने में नील सोमैया के खिलाफ FIR दर्ज की गई थी. इस शिकायत में पूर्व सैन्यकर्मी ने दावा किया था कि बीजेपी नेता और उनके बेटे ने जंगी जहाज को कबाड़ में शामिल होने से बचाने के लिए साल 2012 में 57 करोड़ रुपए इकट्ठा किए थे. लेकिन यह रकम कभी भी राज्यपाल ऑफिस में जमा नहीं की गई.

नील सोमैया को गिरफ्तारी से अंतरिम राहत

वहीं बीजेपी नेता किरीट सोमैया ने पूर्व सैन्यकर्मी के आरोपों का खंडन किया है. इसके साथ ही उन्होंने 57 करोड़ रुपए इकट्ठा करने की बात पर भी सवाल उठाया. बता दें कि इस मामले में हाई कोर्ट ने पिछले हफ्ते बीजेपी नेता किरीट सोमैया को भी गिरफ्तारी से इसी तरह राहत दी थी. बॉम्बे हाई कोर्ट ने नील सोमैया को गिरफ्तारी से अंतरिम राहत देते हुए उनकी पूर्व जमानत अर्जी पर उनके पिता की अर्जी के साथ सुनवाई का फैसला किया है.

28 अप्रैल को होगी जमानत अर्जी पर सुनवाई

अब दोनों की अर्जी पर 28 अप्रैल को सुनवाई होगी.कोर्ट में पुलिस की तरफ से पेश हुए वकील शिरीष गुप्ते ने कहा कि पुलिस नील सोमैया से पूछताछ करना चाहती है, वह पहले किरीट सोमैया से भी पूछताछ कर चुकी है. वहीं जज प्रभुदेसाई ने नील सोमैया को पूछताछ के लिए 25 से 28 अप्रैल तक सुबह 11 बजे से दोपहर तक पुलिस के सामेन पेश होने का निर्देश दिया है.

Similar Posts