IND vs SA: युजवेंद्र चहल के दम पर भारत ने जीता तीसरा टी20, दिग्गज गेंदबाज ने बताया कैसे 3 ओवर में पलट दिया मैच

Yuzvendra Chahal

साउथ अफ्रीका के खिलाफ पिछले दो टी20 मैचों में युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) की गेंदबाजी प्रभावित करने में नाकाम रही थी. न तो वह विकेट हासिल कर पा रहे थे और न ही रनों की गति पर लगाम लगा पा रहे थे. इन दोनों मुकाबलों की कसर चहल ने विशाखापत्तनम में पूरी की. चहल ने सीरीज के तीसरे मुकाबले में अपने चार ओवर के स्पेल में 5.00 के इकनोमी रेट से गेंदबाजी की. उन्होंने 20 रन देकर तीन विकेट हासिल कर लिए और टीम इंडिया (Indian Cricket Team) को सीरीज की पहली जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई. इस शानदार प्रदर्शन के लिए चहल को प्लेयर ऑफ द मैच भी चना गया.

आशीष नेहरा में चहल ने जीता दिया मैच

चहल की गेंदबाजी देखकर पूर्व भारतीय गेंदबाज और गुजरात टाइटंस के कोच आशीष नेहरा ने कहा, ‘ऐसे कम ही मौके आए हैं जब हर्षल पटेल ने आरसीबी के लिए पावरप्ले में गेंदबाजी की हो. तीसरे टी20 में हर्षल ने रन तो लुटाए लेकिन विकेट भी हासिल लिए. वहीं युजवेंद्र चहल की आक्रामकता हमें आज देखने को मिली, जिसके लिए वो जाने जाते हैं. उन्होंने आज अपने लेंथ और पेस को काफी अच्छी तरह से मिक्स किया. पिछले मैच के बाद चहल ने जरूर सोचा होगा कि वो थोड़े डिफेंसिव थे. उन्होंने अपनी फ्लाइट से बल्लेबाजों को परेशान किया और फंसाया. अपने पहले तीन ओवरों में ही उन्होंने साउथ अफ्रीका को मैच से दूर कर दिया.

चहल ने हासिल किए तीन अहम विकेट

युजवेंद्र चहल ने मैच में 20 रन लुटाकर मेहमान टीम के 3 अहम विकेट हासिल किए जिससे भारत की जीत की नींव रखी गई. चहल ने सबसे पहले ऑलराउंडर ड्वेन प्रिटोरियस को आउट किया जो केवल 20 ही रन बना पाए. इसके बाद उन्होंने दिल्ली के मैच के हीरो रहे रासी वैन डार डुसैं को पवेलियन भेजा जो कि केवल एक ही रन बना पाए थे. इसके अलावा उन्होंने पिछले मैच में तूफानी पारी खेलने वाले हेनरिक क्लासन (29) को आउट किया.

पहले दो मैचों में नहीं दिखा था चहल का जलवा

इससे पहले खेले गए दोनों टी20 मैचों में चहल की गेंदबाजी निराशाजनक रही थी. उसमें वह धार नहीं दिखी जिसके लिए वह जाने जाते हैं. पहले मुकाबले में चहल को पूरे चार ओवर भी गेंदबाजी करने का मौका नहीं मिला. उन्होंने 2.1 ओवर में 26 रन दिए थे और खाली हाथ रहे. कटक में उन्हें अपने ओवर्स का कोटा पूरा करने का मौका मिला लेकिन यहां भी बहुत महंगे साबित हुए. उन्होंने 4 ओवर्स में 49 रन दिए लेकिन एक भी विकेट हासिल नहीं कर सके.

Similar Posts