Ind vs Aus, 1st T20I: एशिया कप हारने वाली टीम ऑस्ट्रेलिया से कैसे जीतेंगे?

Indian Cricket Team 2022 09 19t164357.021

एशिया कप-2022 में भारतीय क्रिकेट टीम से जिस प्रदर्शन की उम्मीद थी टीम उस तरह का खेल नहीं दिखा पाई. रोहित शर्मा की कप्तानी वाली टीम खिताब की प्रबल दावेदार के रूप में यूएई पहुंची थी लेकिन सुपर-4 से ही लौट आई. इस हार टीम मैनेजमेंट के सामने कई तरह के सवाल छोड़े हैं और इन सवालों का जवाब टीम मंगलवार से ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शुरू हो रही तीन मैचों की टी20 सीरीज में ढूंढ़ना चाहेगी.

ये सीरीज भारत के लिए अगले महीने से ऑस्ट्रेलिया में शुरू हो रहे आईसीसी टी20 विश्व कप के लिए अपनी तैयारियों को परखने का अच्छा मौका है. टीम इंडिया विश्व कप से पहले अपने उचित संयोजन विशेषकर मध्यक्रम से जुड़े मसले को सुलझाने का प्रयास करेगी.

भारत की गेंदबाजी होगी मजबूत

विश्व कप से पहले होने वाले छह मैचों में कुछ तेज गेंदबाजों को भले ही विश्राम दिया गया है लेकिन इसे छोड़कर भारत अपनी मजबूत टीम के साथ ही उतर रहा है. ऑस्ट्रेलिया के बाद भारत तीन मैचों के लिए साउथ अफ्रीका की मेजबानी करेगा. टी20 प्रारूप में लचीलापन बनाए रखना महत्वपूर्ण होता लेकिन कप्तान रोहित शर्मा पहले ही स्पष्ट कर चुके हैं कि ऑस्ट्रेलिया में होने वाली आईसीसी प्रतियोगिता से पहले उनके खिलाड़ी सभी सवालों का जवाब ढूंढने का प्रयास करेंगे. भारत ने भले की एशिया कप में अच्छी बल्लेबाजी की लेकिन उसने इस दौरान कई बदलाव भी किए. भारत की गेंदबाजी की कमजोरियां भी इस टूर्नामेंट में खुलकर सामने आईं, लेकिन हर्षल पटेल और जसप्रीत बुमराह की वापसी से आक्रमण को मजबूती मिली है.

रोहित ने साफ कर दिया कि विश्व कप में उनके साथ केएल राहुल ही पारी का आगाज करेंगे लेकिन यहां संभावना है कि उनके साथ विराट कोहली पारी की शुरुआत करने के लिए उतरें. अपनी पिछली टी20 पारी में शतक जड़ने वाले कोहली को सलामी बल्लेबाज के रूप में उतारा जा सकता है. लेकिन रोहित ने कहा है कि ऐसा कुछ ही मैचों में देखने को मिलेगा.

पंत होंगे या कार्तिक

भारतीय बल्लेबाजी क्रम में चोटी के चार बल्लेबाज तय हैं लेकिन अभी यह तय नहीं है कि अंतिम एकादश में विकेटकीपर के रूप में ऋषभ पंत को चुना जाएगा या दिनेश कार्तिक को.रवींद्र जडेजा के चोटिल होने के कारण भारत पंत को बाएं हाथ का बल्लेबाज होने के कारण कार्तिक पर तरजीह दे सकता है. कार्तिक फिनिशर की भूमिका के लिए टीम में लिए गए हैं. उन्हें एशिया कप में बल्लेबाजी का बमुश्किल मौका मिला था लेकिन टीम प्रबंधन अगले दो सप्ताह में उन्हें क्रीज पर कुछ समय बिताने का अवसर दे सकता है. दीपक हुड्डा एशिया कप में सुपर चार के सभी मैचों में खेले थे लेकिन टीम में उनकी भूमिका को लेकर स्पष्टता नहीं है.

गेंदबाजी संयोजन बनाने की कोशिश

एशिया कप के दौरान जडेजा की चोट के कारण टीम में गेंदबाजी संतुलन बिगड़ गया था. भारत को पांच गेंदबाजों के साथ खेलने के लिए मजबूर होना पड़ा और उसके पास गेंदबाजी में छठा विकल्प नहीं था. अगर भारत हार्दिक पंड्या और जडेजा की जगह लिए गए अक्षर पटेल को अंतिम एकादश में रखता है तो उसके पास अतिरिक्त गेंदबाजी विकल्प होगा. बुमराह,भुवनेश्वर कुमार,हर्षल और हार्दिक के तेज गेंदबाजी आक्रमण के साथ अक्षर और युजवेंद्र चहल के रूप में दो स्पिनर हो सकते हैं. ऑस्ट्रेलिया की परिस्थितियों को ध्यान में रखकर ही टीम प्रबंधन इन मैचों के लिए टीम संयोजन तैयार करेगा.

फिंच और डेविड पर नजरें

दूसरी तरफ ऑस्ट्रेलिया डेविड वॉर्नर सहित कुछ प्रमुख खिलाड़ियों के बिना भारत आया है. वॉर्नर को विश्राम दिया गया है जबकि मिचेल स्टार्क, मार्कस स्टोइनिस और मिचेल मार्श को चोटों से उबरने का समय दिया गया है. सभी का ध्यान कप्तान एरॉन फिंच पर होगा जिन्होंने लगातार लचर प्रदर्शन के कारण हाल में वनडे से संन्यास ले लिया था. वह विश्व कप से पहले फॉर्म में वापसी करने की कोशिश करेंगे.एक अन्य खिलाड़ी टिम डेविड पर भी सभी की नजरें टिकी होंगी जो सिंगापुर की तरफ से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने के बाद ऑस्ट्रेलिया की तरफ से पदार्पण करेंगे.

टीम इस प्रकार हैं:

आस्ट्रेलिया: एरॉन फिंच (कप्तान) सीन एबॉट, एश्टन एगर, पैट कमिंस, टिम डेविड, नाथन एलिस, कैमरन ग्रीन, जॉश हेजलवुड, जॉश इंगलिस, ग्लेन मैक्सवेल, केन रिचर्डसन, डेनियल सैम्स, स्टीव स्मिथ, मैथ्यू वेड, एडम जाम्पाय

भारत: रोहित शर्मा (कप्तान), केएल राहुल (उप कप्तान), विराट कोहली, सूर्यकुमार यादव, दीपक हुड्डा, ऋषभ पंत, दिनेश कार्तिक, हार्दिक पंड्या, रविचंद्रन अश्विन, युजवेंद्र चहल, अक्षर पटेल, भुवनेश्वर कुमार, हर्षल पटेल, दीपक चाहर, जसप्रीत बुमराह, उमेश यादव.