Himachal Pradesh: BJP खेल मंत्री के गृह जिले के खिलाड़ियों के लिए बनाती है पॉलिसी, AAP में शामिल हुए एथलीट ने लगाए गंभीर आरोप

Sunil Sharma Aap

हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव (Himachal Pradesh Assembly Election 2022) से पहले सोमवार को आम आदमी पार्टी (AAP) में शामिल हुए अल्ट्रा मैराथन धावक सुनील शर्मा (Ultra Marathon Runner Sunil Sharma) ने मंगलवार को बीजेपी (BJP) पर हमला बोलते हुए बीजेपी सरकार पर एथलीटों की अनदेखी के आरोप भी लगाए. शर्मा ने कहा कि भाजपा सरकार के खेल मंत्री (Union sports Minister) के गृह जिला के खिलाड़ियों के लिए ही पालिसी बनाती है, दूसरे जिलों के लिए सरकार कुछ नहीं करती है. सुनील शर्मा ने सिरमौर (Sirmour) के नाहन में कहा.

सुनील शर्मा ने कहा कि वह दो लाख किलोमीटर दौड़ कर इतने नहीं थके, जितने पिछले 6 वर्षों में प्रदेश विधानसभा व सचिवालय शिमला के चक्कर लगाकर थक गए हैं. सुनील शर्मा ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर पर आरोप लगाया कि आखिर एथलीटों के लिए क्यों पॉलिसी नहीं बनाते. राफ्टिंग और स्कीइंग के लिए कैसे पालिसी बनी तथा कितने देश हैं जो राफ्टिंग और स्कीइंग खेलते हैं. सुनील शर्मा का कहना है कि यदि वह किसी मंत्री, विधायक, सांसद के रिश्तेदार या परिवार के सदस्य होते तो उन्हें अब तक सरकार द्वारा नौकरी दे दी जाती मगर वह एक किसान के बेटे तथा एक फौजी के भाई हैं. इसलिए हिमाचल सरकार पिछले 6 वर्षों में एथलीटों के लिए कोई भी पालिसी नहीं बना पाई.

दो लाख किलोमीटर की दौड़ लगा चुके हैं सुनील

आम आदमी पार्टी में शामिल होने के दौरान धावक सुनील शर्मा ने कहा कि वह अपने जीवन में अब तक लगभग दो लाख किलोमीटर की दौड़ लगा चुके हैं, लेकिन थकान नहीं हुई, लेकिन हिमाचल प्रदेश सचिवालय के चक्कर काटते-काटते वह थक चुके हैं. सुनील शर्मा ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में स्पोर्ट्स को लेकर दोहरे मापदंड हैं. सिफारिश हो, तो ऐसी खेलों की नीति तैयार कर दी जाती है, जिसे पूरी दुनिया में चंद देश ही खेलते हैं. उन्होंने कहा कि वह क्रिकेट को लेकर कोई आरोप नहीं लगा रहे हैं, लेकिन यह जरूर कहना चाहते हैं कि क्रिकेटर को चंद मिनटों में ही नौकरियों और इनामों की घोषणा कर दी जाती है.

सुनील शर्मा ने बताया कि वह चार बार अल्ट्रा मैराथन में नेशनल चैंपियन रह चुके हैं. ओसिया एवं ओसियन वर्ल्ड चैंपियनशिप ताइपेन में हुई थी. उसमें इंडिया की टीम ने ब्रांच जीता था, उस टीम के सदस्य थे. इसके अलावा कई और खीताब भी वह जीत चुके हैं.

Similar Posts