Haryana: NH पर पत्थरों के बेरिकेड्स से टकराई कार, हादसे में तीन MBBS छात्र जिंदा जले, NHAI डायरेक्टर और कंपनी पर FIR

Accident

हरियाणा के सोनीपत जिले में गुरुवार को एक दर्दनाक सड़क हादसा हुआ (Sonipat Road Accident). सोनीपत से गुज़रने वाले मेरठ झज्जर नेशनल हाईवे पर एक तेज़ रफ़्तार कार पत्थरों की बेरिकेड्स से जा टकराई. टक्कर के बाद आई-20 कार में भयंकर आग लग गई. आग लगने से कार में सवार 3 MBBS छात्रों की जलकर मौत हो गई जबकि 3 अन्य की हालत गंभीर बनी हुई है (MBBS Student Road Accident). वहीं हादसे के बाद एक मृतक छात्र के पिता ने थाना राई पुलिस ने नेशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (NHAI) के प्रोजेक्ट डायरेक्टर सड़क बना रही कंपनी के खिलाफ केस दर्ज करवाया है. पिता ने कंपनी और प्रोजेक्ट डायरेक्टर को बच्चों की मौत का जिम्मेदार ठहराया है.

दरअसल कार सवार युवक रोहतक से हरिद्वार निकले थे. इसी दौरान सोनीपत में मेरठ झज्जर नेशनल हाईवे उनकी कार पत्थरों की बेरिकेड्स से जा टकराई और कार में आग लग गई. आग लगने से रोहित, पुलकित व संदेश की हादसे में मौत हो गई. जबिक घायलों छात्र अंकित, नरवीर व सोमबीर का पीजीआइ रोहतक में इलाज चल रहा है. तीनों आइसीयू में भर्ती हैं और हालत गंभीर है. हादसे में अपने बेटे रोहित को गंवाने वाले जयसिंह ने तीनों बच्चों की मौत के लिए NHAI और गावड़ कंपनी को जिम्मेदार ठहराया है. मामले में उन्होंने थाना राई पुलिस में NHAI के प्रोजेक्ट डायरेक्टर आनंद दहिया और गावड़ कंस्ट्रक्शन कंपनी के खिलाफ केस दर्ज करवाया है.

नेशनल हाइवे के बीच में बिना किसी चेतावनी के रखे गए सीमेंट के बैरिकेड

पिता का आरोप है कि नेशनल हाइवे के बीच में सीमेंट के बैरिकेड रख दिए गए थे और वहां ऐसा कोई इंतजाम नहीं किया गया, जिससे पता चले कि आगे रोड बंद है. जिम्मेदार अधिकारियों द्वारा किसी प्रकार का रीफ्लैक्टर, पेन्ट, चिन्ह, मार्का, रोड डाई वर्जन, ब्लिंकर लाइट जैसी कोई व्यवस्था नही की गई थी. जिससे पता चालक को पता चल सके कि रोड़ बंद है. थाना राई के जांच अधिकारी ASI संजीव ने बताया कि पुलिस ने मृतक छात्र के पिता जय सिंह के बयान पर NHAI के प्रोजेक्ट डायरेक्टर आनंद दहिया और गावड़ कंपनी के खिलाफ धारा 283/337/304A IPC के तहत केस दर्ज किया है.

Similar Posts