Hanshkhali Rape Case: हंसखाली रेप मामले में BJP की फैक्ट्स फाइंडिंग टीम जेपी नड्डा को आज सौंपेगी रिपोर्ट, पीड़िता के घर का किया था दौरा

Hanshkhali Bjp Facts Finding Team

पश्चिम बंगाल के नदिया जिले के हंसखाली में नाबालिग लड़की ( RapeCases ) के साथ कथित रूप से रेप के बाद पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार करने के मामले में बीजेपी की फैक्ट्स फाइंडिंग टीम (BJP Facts Finding Team) बुधवार को शाम चार बजे बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा को रिपोर्ट सौंपेगी. फैक्ट्स-फाइंडिंग टीम ने पश्चिम बंगाल (West Bengal) के नदिया जिले का दौरा किया था, जहां बलात्कार के बाद कथित तौर पर एक किशोरी की मौत हो गई थी. एक हफ्ते पहले बीजेपी ने घटना की जांच के लिए पांच सदस्यीय फैक्ट-फाइंडिंग टीम का गठन किया था. टीम ने शुक्रवार को गांव का दौरा किया और पीड़ित परिवार से मुलाकात की. टीम में पार्टी की उपाध्यक्ष रेखा वर्मा, बीजेपी महिला मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष वनथी श्रीनिवासन, खुशबू सुंदर और बंगाल की विधायक श्रीरूपा मित्रा चौधरी शामिल हैं.

कलकत्ता उच्च न्यायालय के आदेश पर सीबीआई पहले से ही मामले की जांच कर रहा है. नाबालिक लड़की के परिवार ने आरोप लगाया कि 4 अप्रैल को उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया और बिना पोस्टमार्टम के जल्दबाजी में उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया. उन्होंने एक सत्तारूढ़ टीएमसी नेता के बेटे को मुख्य आरोपी के रूप में नामित किया है, जिसे एक दोस्त के साथ गिरफ्तार भी किया गया है. बाद में सीबीआई ने एक और व्यक्ति को गिरफ्तार किया.

शुक्रवार को टीम की सदस्यों ने पीड़िता के परिवार से की थी मुलाकात

इस मामले पर बीजेपी के दल ने शुक्रवार को नादिया जिले के हंसखली में नाबालिग लड़की के परिवार के सदस्यों से मुलाकात की थी. दल ने राज्य में महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने में विफल रहने के लिए राज्य प्रशासन की आलोचना भी की थी. भारतीय जनता पार्टी के सूत्रों ने कहा कि दल के सदस्यों ने परिजनों और स्थानीय लोगों से बात की थी. परिवार के सदस्यों से मुलाकात के बाद रेखा वर्मा ने संवाददाताओं को बताया था, पश्चिम बंगाल में महिलाओं के खिलाफ ज्यादती शब्दों में बयां नहीं की जा सकती. एक नाबालिग लड़की से दुष्कर्म कर उसकी हत्या कर दी जाती है. यह साबित करता है कि प्रशासन महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने में नाकाम रहा है. यह एक शर्मनाक घटना है.

सीएम ममता बनर्जी ने बताया था लव अफेयर, मचा था बवाल

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी द्वारा इस मामले को “प्रेम प्रसंग” के रूप में बताने पर भी काफी बवाल हो चुका है. सीएम ममता बनर्जी ने कहा था कि ऐसा प्रतीत होता है कि नाबालिग गर्भवती थी और उसका लव अफेयर चल रहा था. आरोप है कि 14 वर्षीय पीड़िता को टीएमसी नेता के बेटे ने अपने जन्मदिन पर आयोजित पार्टी के लिए बुलाया था। इसके बाद जब लड़की देर रात घर लौटी तो अगले दिन अत्यधिक रक्तस्राव के कारण उसकी मृत्यु हो गई. शाम को बिना मृत्यु प्रमाण पत्र के उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया.

Similar Posts