Gujarat Election : ऊना विधानसभा में कांग्रेस की पकड़ मजबूत, पिछले छह चुनावों से बीजेपी को मिल रही है हार

Una (gujrat)

गुजरात विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा और कांग्रेस की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं. भाजपा ने ऐसी विधानसभा सीटों पर ध्यान देना शुरू कर दिया है जिन पर उन्हें लंबे समय से जीत नहीं मिली है. जबकि कांग्रेस ने ऐसी विधानसभाओं पर काम करना शुरू किया है जहां उसे पिछले चुनावो में मामूली मतों से उसे हार का सामना करना पड़ा था. गुजरात के सौराष्ट्र क्षेत्र में भाजपा की अपेक्षा कांग्रेस ज्यादा मजबूत है. सौराष्ट्र की ऊना विधानसभा सीट की गिनती ऐसी सीटों में होती है. ऊना सीट पर कांग्रेस का कब्जा लम्बे समय से है.पिछले 6 चुनावो इस सीट पर कांग्रेस उम्मीदवार जीत रहे हैं जबकि बीजेपी उम्मीदवार को हार का सामना करना पड़ रहा है. सौराष्ट्र क्षेत्र में पार्टी से ज्यादा उम्मीदवार की कार्यशैली और जाति की अहमियत होती है. ऊना विधानसभा क्षेत्र में भी ऐसा ही है. यह क्षेत्र पिछड़ा जरूर है लेकिन यहां के मतदाता का अभी भी कांग्रेस के प्रति विश्वास कायम है.

गुजरात में ऊना क्यों रहा सुर्खियों में

गुजरात में ऊना का नाम 2016 में काफी सुर्खियों में रहा. यहां पर 4 दलित युवकों की पिटाई हुई थी. इस घटना को लेकर पुरे देश में दलितों में आक्रोश देखने को मिला था. गुजरात के दलित नेता जिग्नेश मेवाड़ी ने भी इस घटना के विरोध में दलित अस्मिता यात्रा निकाली जिसके जरिए वह दलितों के एक बड़े नेता बन सके ऊना कांड के जरिए ही गुजरात के मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल को इस्तीफा देना पड़ा था. 2017 के विधानसभा चुनाव पर भी इससे कांड का असर पड़ा. इस क्षेत्र में बीजेपी को मतदाताओं की नाराजगी भी झेलनी पड़ी.

ऊना विधानसभा का राजनीतिक इतिहास

गुजरात के गठन के बाद पहली बार विधानसभा चुनाव 1962 में हुए शुरुआत से ही ऊना विधानसभा सीट पर कांग्रेस मजबूत पकड़ रही है. ऊना विधानसभा सीट सोमनाथ जिले के अंतर्गत आती है. इस जिले में 4 विधानसभा सीटें हैं. इन सभी सीटों पर कांग्रेस का ही कब्जा है. ऊना विधानसभा सीट पर कांग्रेस के विधायक पूजा भाई भीमा भाई वंश का पिछले 6 चुनाव से विधायक चुने जा रहे है .वह लगातार इस विधानसभा सीट से बीजेपी को मात देते हुए जीत दर्ज कर रहे हैं. ऊना क्षेत्र के मतदाताओं के बीच में उनकी सबसे ज्यादा पकड़ है.

ऊना विधानसभा का भौगोलिक परिचय

गुजरात के सौराष्ट्र के सोमनाथ जिले के अंतर्गत आने वाली उना विधानसभा सीट में कुल 153 गांव हैं. इस विधानसभा के ज्यादातर गांव समुद्र के तट पर बसे हुए हैं .वही इस क्षेत्र के ज्यादातर गांव गिर के जंगल में स्थित है .क्षेत्र में सबसे ज्यादा कोली समुदाय के लोग रहते हैं. यहां पर सामान्य वर्ग की जनसंख्या बहुत कम है. जबकि यहां पर दलित वर्ग और आदिवासी समुदाय की बहुलता है.विकास की दृष्टि से यह पूरा क्षेत्र पिछड़ा हुआ है ।

Similar Posts