Egypt: एक डांस वीडियो से मुसीबत में फंसी टिकटॉक स्टार! ‘अय्याशी’ का लगा आरोप, अब खानी पड़ेगी जेल की हवा

Egypt Model

डांस करना किसी के लिए उसका शौक होता है, तो किसी के लिए ये उसका प्रोफेशन. लेकिन क्या हो अगर डांस करने पर आपको जेल हो जाए. ऐसे ही एक मामला मिस्र में सामने आया. दरअसल, मिस्र (Egypt) में एक टिकटॉक स्टार को डांस करना इतना भारी पड़ गया कि उसे 10 साल जेल की सजा सुना दी गई. टिकटॉक स्टार के डांस वीडियो को लेकर कहा गया कि इससे समाज में अय्याशी फैलती है. हालांकि, अब उसकी सजा को 10 साल से कम करके तीन साल कर दिया गया है. 20 वर्षीय हनीन होसम को ‘मानव तस्करी’ का दोषी ठहराया गया. उस पर आरोप था कि उसने लड़कियों से पैसे ऐंठे. हालांकि, उसने अपने ऊपर लगे आरोपों से इनकार किया है.

हनीन होसम को पहली बार अप्रैल 2020 में ‘पारिवारिक मूल्यों और कायदे का उल्लंघन करने’ पर गिरफ्तार किया गया. ये कार्रवाई इसलिए हुई क्योंकि उसने अपने फोलोवर्स को लाईकी नाम एक एक वीडियो-शेयरिंग प्लेटफॉर्म को ज्वान करने को कहा. उसने अपने फोलोवर्स से कहा कि यहां पर वीडियो पोस्ट करने पर पैसे मिलते हैं. होसम के साथ एक अन्य टिकटॉक स्टार मोवादा अल-अधामी को भी गिरफ्तार किया गया था. दोनों को जनवरी 2021 में रिहा किया गया था. लेकिन अभियोजकों ने दोनों के ऊपर मानव तस्करी का अधिक गंभीर आरोप लगाया. इसके बाद अदालत ने पिछले साल जून में दोनों को दोषी पाया और 10 साल की सजा सुनाई.

होसम पर लगाया गया जुर्माना

सजा सुनाए जाने के बाद होसम ने एक वीडियो पोस्ट किया, जिसमें वह रोती हुई नजर आई. इसके बाद एक बार फिर से मामले पर सुनवाई शुरू की गई. हालांकि, उसी अदालत ने सोमवार को होसम को दोषी पाया और उसे तीन साल की सजा सुनाई गई. जज ने उस पर 2,00,000 मिस्री पाउंड का जुर्माना भी लगाया. मिस्र में सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से भड़काऊ और नाचने-गाने वाले वीडियो को हटाने का चलन जारी है. इस सिलसिले में लोगों की गिरफ्तारी भी हुई है. इन वीडियो को लेकर कहा जाता है कि ये मुस्लिम नैतिकता के विपरीत हैं. हाल के सालों में कई बेली डांसर्स और पॉप सिंगर्स को निशाना बनाया गया है.

मानवाधिकार समूहों का कहना है कि राष्ट्रपति अब्देल फतह अल-सीसी की सरकार में लोगों की स्वतंत्रता को कुचला जा रहा है. वह 2014 से ही सत्ता में बने हुए हैं. होसम ने कथित तौर पर 18 साल से अधिक उम्र की महिलाओं को वर्क फ्रॉम होम करने और लाइव वीडियो बनाकर लाखों रुपये कमाने का मौका दिया. होसम को काहिरा यूनिवर्सिटी से भी निकाल दिया गया था. अपनी गिरफ्तारी से पहले, होसम ने अपनी पोस्ट का बचाव करते हुए एक वीडियो जारी किया और उन दावों को खारिज कर दिया जो वह अय्याशी फैला रही थी.

Similar Posts