DU Admissions 2022: कब जारी होगी डीयू की पहली कट ऑफ लिस्ट? कैसे होगा एडमिशन

शुरुआती कट ऑफ के आधार पर योग्य पाए जाने वाले उम्मीदवार Delhi University के कॉलेज में अंडरग्रेजुएट कोर्स में एडमिशन के लिए अप्लाई कर सकते हैं.

Delhi University Admission

दिल्ली यूनिवर्सिटी (DU) में CUET UG Result 2022 के जारी होने के साथ ही अकेडमिक ईयर 20222023 के लिए DU Admission की शुरुआत हो गई है. आधिकारिक बयान के मुताबिक, पहली कट ऑफ लिस्ट को 10 अक्टूबर 2022 को जारी किया जाएगा. सीयूईटी एग्जाम देने वाले स्टूडेंट्स बेसब्री से पहली कट ऑफ लिस्ट का इंतजार कर रहे हैं. पिछले साल तक Delhi University में एडमिशन 12वीं क्लास में मिले नंबरों के आधार पर बनने वाली मेरिट लिस्ट के जरिए होता था. लेकिन इस साल डीयू में अंडरग्रेजुएट कोर्सेज में एडमिशन सीयूईटी स्कोर के आधार पर मिलने वाला है.

लेडी श्री राम कॉलेज, हंसराज कॉलेज, एसआरसीसी, रामजस कॉलेज, किरोड़ी मल कॉलेज, रामानुजन कॉलेज, जीसस एंड मैरी कॉलेज, देशबंधु कॉलेज समेत अन्य डीयू से जुड़े हुए कॉलेज दिल्ली यूनिवर्सिटी के ऑफिशियल वेबसाइट पर डीयू की पहली कट ऑफ लिस्ट को जारी करेंगे. अगर पिछले साल के अनुमान के हिसाब से चलें, तो डीयू की पहली कट ऑफ 99.37 फीसदी तक जा सकती है. शुरुआती कट ऑफ के आधार पर योग्य पाए जाने वाले उम्मीदवार दिल्ली यूनिवर्सिटी के कॉलेज में अंडरग्रेजुएट कोर्स में एडमिशन के लिए अप्लाई कर सकते हैं.

DU ने लॉन्च किया CSAS पोर्टल

दिल्ली विश्वविद्यालय के कॉलेजों में एडमिशन निर्धारित करने के लिए डीयू की पहली कट ऑफ लिस्ट का इस्तेमाल किया जाएगा. इसके अलावा, उम्मीदवारों को एडमिशन फीस भी भरनी होगी. डीयू सीट अलॉटमेंट लिस्ट की कुल संख्या, कोर्स में अप्लाई करना, सीयूईटी मार्क्स, उपलब्ध सीटों की संख्या और अन्य फैक्टर्स को ध्यान में रखकर बनाया जाएगा. दिल्ली यूनिवर्सिटी ने एडमिशन के लिए कॉमन सीट एलॉकेशन सिस्टम (CSAS) 2022 एप्लिकेशन पोर्टल को लॉन्च किया है, ताकि ऑफिशियल वेबसाइट पर से दबाव को कम किया जा सके.

ये भी पढ़ें



तीन फेज में होगा एडमिशन

CSAS पोर्टल के जरिए एडमिशन तीन फेज में करवाए जाएंगे. इसके तहत पहले फेज में CSAS-2022 एप्लिकेशन फॉर्म को सब्मिट करना होगा. दूसरे फेज में प्रोग्राम को सेलेक्ट करना और अपनी प्रेफेरेंस को फिल करना होगा. वहीं, तीसरे फेज के तहत सीट एलॉकेशन और एडमिशन होगा. हर साल दिल्ली यूनिवर्सिटी के 91 कॉलेजों में अंडरग्रेजएट कोर्सेज में 70,000 सीटों पर एडमिशन दिया जाता है. उम्मीदवारों को एडमिशन के लिए तभी पात्र माना जाएगा, जब उन्होंने अपने मनपसंद कॉलेज के किसी भी अंडरग्रेजुएट कोर्स के लिए पहली कट ऑफ जितने नंबर हासिल किए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.