Cute Video: बच्चे को यूं घेरकर चल रहा था हाथियों का झुंड, लोग बोले- ये तो Z+++ सिक्युरिटी है; देखें वीडियो

Viral Video Shows Herd Of Elephants Escorting Newborn Baby Ifs Says Its Z Plus Security

जो सुख परिवार में है, वो और कहीं नहीं है. अगर परिवार (Family) साथ हो, तो मुश्किल हालात में भी लड़ने की ताकत मिलती है. ये परिवार ही है, जो सुख-दुख में साथ रहकर एक-दूसरे की जरूरतों का खयाल रखता है. वैसे, परिवार की ये खासियत केवल इंसानों में ही देखने को नहीं मिलती है, बल्कि जानवर भी इसी तरह अपने परिवार को सपोर्ट करते हैं. सोशल मीडिया पर इन दिनों कुछ ऐसा ही वीडियो सामने आया है, जिसे देखने के बाद आप भी समझ जाएंगे कि इंसान हो या जानवर, दोनों में फीलिंग्स एक जैसी ही होती है. वीडियो में हाथियों का झुंड (Herd of Elephants) एक नवजात हाथी को घेरकर चलता हुआ नजर आता है. इसे देखकर ऐसा लगता है जैसे हाथी (Elephant) बच्चे को Z+ सिक्युरिटी देते हुए चल रहे हों.

वायरल हो रहा ये वीडियो महज 38 सेकंड का है, लेकिन इंटनेट की पब्लिक को काफी पसंद आ रहा है. ट्विटर पर हाथी के इस क्यूट से वीडियो को IFS अधिकारी सुशांत नंदा ने शेयर किया है. उन्होंने कैप्शन में लिखा है, ‘प्यारे नवजात शिशु को हाथियों के झुंड से बेहतर सुरक्षा पृथ्वी पर और कोई नहीं दे सकता है. यह Z+++ सिक्युरिटी है.’ अधिकारी के मुताबिक, यह नजारा सत्यमंगलम कोयंबटूर रोड का है. तो आइए देखते हैं ये वीडियो.

देखें, हाथी का वीडियो


बता दें कि ट्विटर पर एक दिन पहले शेयर हुए इस वीडियो को अब तक 3 लाख 12 हजार से ज्यादा बार देखा जा चुका है, जबकि पोस्ट को 6 हजार से ज्यादा लाइक और 900 से ज्यादा रिट्वीट मिल चुके हैं. यह संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. वहीं, वीडियो देखने के बाद लोग लगातार अपनी-अपनी प्रतिक्रिया दर्ज करा रहे हैं. कमेंट में कोई क्यूट, तो कोई छोटू गणेश कह रहा है.

एक यूजर ने आईएफएस से सवाल करते हुए पूछा है, क्या बेबी हाथी को कभी चोट नहीं लगती है ? क्योंकि, झुंड में तो बहुत बड़े-बड़े हाथी हैं. इस पर अधिकारी ने जवाब दिया है कि बच्चे की मां और मौसी बच्चे को लेकर बेहद संवेदनशील होते हैं. ऐसा कभी नहीं होता है. आपको बता दें कि हाथी बेहद सज्जन टाइप होते हैं. ये किसी तरह के संघर्ष में नहीं पड़ते. लेकिन हाथियों के साथ अगर मुठभेड़ हो जाए, तो फिर जिंदगी खतरे में पड़ सकती है. खासकर तब, जब ये अपने बच्चों के साथ हों. इसलिए, उन्हें बेवजह उकसाना नहीं चाहिए. वरना नतीजा क्या हो सकता है, ये तो आप भी अच्छे से जानते होंगे.

Similar Posts