CUET स्कोर पर JNU में शुरू होने वाला है एडमिशन, समझ लीजिए प्रोसेस

Jnu

जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU), दिल्ली जल्द ही अंडरग्रेजुएट कोर्सेज में दाखिले के लिए एडमिशन प्रोसेस की शुरुआत होने वाली है. इस साल जेएनयू में अंडरग्रेजुएट कोर्सेज में एडमिशन कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट (CUET UG) के तहत एडमिशन दिया जाएगा. JNU Admission के लिए रजिस्टर करने वाले उम्मीदवार जल्द ही ऑफिशियल वेबसाइट jnu.ac.in पर जाकर एडमिशन पोर्टल पर रजिस्टर कर पाएंगे. इस साल देशभर की सेंट्रल यूनिवर्सिटीज में यूजी कोर्सेज में एडमिशन CUET Score पर एडमिशन दिया जा रहा है.

अभी तक दिल्ली यूनिवर्सिटी समेत कई यूनिवर्सिटीज में एडमिशन 12वीं क्लास में मिलने वाले नंबरों के आधार बनने वाली मेरिट लिस्ट के जरिए होता था. वहीं, जेएनयू की तरफ से जारी ऑफिशियल नोटिस के मुताबिक, ‘एनटीए द्वारा सीयूईटी-यूजी 2022 रिजल्ट के जारी होने के बाद एडमिशन ब्रांच एनटीए द्वारा प्रदान किए गए उम्मीदवारों के डेटा/जानकारी को इकट्ठा कर रहा है. जल्द ही जेएनयू वेबसाइट पर एडमिशन पोर्टल को शुरू किया जाएगा, ताकि यूनिवर्सिटी में एडमिशन को इच्छुक उम्मीदवार एडमिशन प्रोसेसिंग फीस का भुगतान कर एप्लिकेशन फॉर्म को फिल कर पाएं.’

पहली बार JNU में CUET स्कोर पर एडमिशन

उम्मीदवारों को एडमिशन के आगे के प्रोसेस के लिए ऑफिशियल वेबसाइट jnu.ac.in पर जाना होगा. इसके बाद टॉप मैन्यू पर दिखाई दे रहे एडमिशन टैब पर क्लिक करें. इसके बाद, उम्मीदवारों को यूजी कोर्सेज को चुनना होगा और फिर उन्हें लेटेस्ट इंफोर्मेशन मुहैया कराना होगा. देश की अन्य सेंट्रल यूनिवर्सिटीज की तरह इस बार जेएनयू भी पहली बार सीयूईटी यूजी स्कोर के जरिए अपने यहां अंडरग्रेजुएट कोर्सेज में एडमिशन दे दिया गया.

वहीं, जामिया मिलिया इस्लामिया (JMI) सिर्फ आठ अंडरग्रेजुएट प्रोग्राम्स में CUET Score के जरिए एडमिशन दिया जाएगा. यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार नाजिम हुसैन जाफरी ने कहा कि इनमें छह बीए (ऑनर्स) प्रोग्राम्स शामिल हैं. ये प्रोग्राम्स हैं- संस्कृत, हिंदी, फ्रेंच एंड फ्रैंकोफोन स्टडीज, स्पेनिश एंड लैटिन अमेरिकी स्टडीज, इकोनॉमिक्स और हिस्ट्री. अन्य दो प्रोग्राम्स बी.एससी बायोटेक्नोलॉजी और बी.वोकेशन (सोलर एनर्जी) हैं.