COMEDK Karnataka CET: खत्म हुआ कॉमेड-के एग्जाम! अब कर्नाटक सीईटी परीक्षा से ही होंगे एडमिशन, पढ़िए डीटेल

Karnataka Comedk

COMEDK Entrance Test: कर्नाटक सरकार ने एक अहम घोषणा की है. अगले साल से कॉमेड-के यूजी प्रवेश परीक्षा को कॉमन एंट्रेंस टेस्ट (सीईटी) में मिला दिया जाएगा. अगले साल से इस परीक्षा को ऑल इंडिया लेवल पर आयोजित किया जाएगा. एंट्रेस एग्जाम में आए रैकिंग के आधार पर एडमिशन होगा. उच्च शिक्षा मंत्री सीएन अश्वथ नारायण ने कहा कि सीओएमईडीके को सीईटी (Karnataka Entrance Test) के साथ मर्ज करने के तौर-तरीकों पर कार्रवाई की अगली प्रक्रिया के रूप में काम किया जाएगा. बेंगलुरु के विकास सौधा में नारायण और कर्नाटक अनएडेड प्राइवेट इंजीनियरिंग कॉलेज (College of Engineering) एसोसिएशन के प्रतिनिधियों के बीच एक बैठक हुई. इस बैठक में कई अहम फैसले लिए गए हैं.

उच्च शिक्षा विभाग ने प्राइवेट इंजीनियरिंग कॉलेजों में फीस बढ़ोतरी को मौजूदा शैक्षणिक वर्ष के लिए कॉलेजों द्वारा मांगे गए 25 प्रतिशत के मुकाबले 10 प्रतिशत तक सीमित रखा. इस बैठक में कोई अन्य शुल्क नहीं लेने पर सहमति बनी है. नारायण ने कहा कि एसोसिएशन ने 25 प्रतिशत शुल्क वृद्धि की मांग की थी “क्योंकि पिछले दो वर्षों में 2020-21 से कोई वृद्धि नहीं हुई थी, लेकिन वे 10 प्रतिशत वृद्धि के लिए सहमत हो गए.

कॉलेजों में एक्स्ट्रा फीस लेने की मनाही

फीस वृद्धि केवल उन छात्रों पर लागू होती है जिन्हें प्राइवेट इंजीनियरिंग कॉलेजों में सरकारी सीटें अलॉट की गई हैं. प्राइवेट कॉलेज के प्रतिनिधियों ने मंत्री को आश्वासन दिया कि वे किसी भी तरह से एक्स्ट्रा फीस लेने वाले कॉलेजों के खिलाफ सरकारी कार्रवाई में उनके साथ होंगे.

इंजीनियरिंग कॉलेजों में एडमिशन के लिए होती है कॉमेड-के यूजी परीक्षा

कॉमेड-के यूजी एंट्रेंस एग्जाम पूरे देश में विभिन्न इंजीनियरिंग कॉलेजों में एडमिशन के लिए आयोजित की जाती है. ये परीक्षा ऑनलाइन ली जाती है. 15 प्रतिशत सीटें अखिल भारतीय कोटा सीटों के लिए आरक्षित होती है. इस साल कॉमेड-के यूजी एंट्रेंस एग्जाम की परीक्षा 19 जून को हुई थी. लेकिन अगले साल से ये परीक्षा सीईटी परीक्षा के साथ मर्ज होकर आयोजित होगी.

Similar Posts