Chhattisgarh : बोरवेल में गिरे बच्चे को 105 घंटे बाद सुरक्षित निकाला गया, करीब 60 फीट की गहराई पर फंसा था राहुल

Borewell Rahul

छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा जिले में सूखे बोरवेल में गिरे 11 वर्षीय बालक राहुल साहू को 105 घंटे तक चले बचाव अभियान के बाद सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है. उन्होंने बताया कि बालक को अस्पताल में भर्ती कराया जा रहा है. राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ), सेना, स्थानीय पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों सहित 500 से अधिक कर्मी शुक्रवार शाम से चल रहे व्यापक बचाव अभियान में शामिल थे.

शुक्रवार दोपहर करीब दो बजे राहुल साहू मलखरोदा विकासखंड के पिहरिड गांव में अपने घर के पीछे स्थित 80 फीट गहरे बोरवेल में गिर गया था. वह करीब 60 फीट की गहराई पर फंसा हुआ था और उसे ऑक्सीजन आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए पाइपलाइन लगाई गई थी.

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्वीट किया, …सभी की प्रार्थनाओं और बचाव दल के अथक व समर्पित प्रयासों के कारण राहुल साहू को सुरक्षित निकाल लिया गया है. मैं कामना करता हूं कि वह जल्द से जल्द पूरी तरह से स्वस्थ हो जाए.समाचार चैनलों पर प्रसारित दृश्यों में बालक को स्ट्रेचर पर ले जाते हुए दिखाया गया है.

बिलासपुर के जिलाधिकारी जितेंद्र शुक्ला ने कहा, बालक की हालत स्थिर है और वह जल्द ही ठीक हो जाएगा. उसे विशेषज्ञ डॉक्टरों की निगरानी में एम्बुलेंस में बिलासपुर जिले के अपोलो अस्पताल में स्थानांतरित किया जा रहा है. स्थानांतरण में सुविधा के लिए लगभग 100 किलोमीटर लंबा ग्रीन कॉरिडोर बनाया गया है.

Similar Posts