BGBS 2022: ममता बनर्जी ने राज्यपाल धनखड़ से की फरियाद, केंद्र से करें सहयोग की बात, केंद्रीय एजेंसियों से उद्योगपतियों को नहीं करें परेशान

Mamata And Governor In Bgbs

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने बंगाल ग्लोबल बिजनेस समिट (BGBS 2022) के अवसर पर राज्य में उद्योगपतियों को निवेश करने का आह्वान किया. इसके साथ ही देश के उद्योगपतियों का आश्वासन दिया कि राजनीतिक रूप से भले भी मतभेद हो. बंगाल में जाति, धर्म और राज्य के नाम पर भेदभाव नहीं किया जाता है. आप गुजरात, के हैं, दिल्ली या पंजाब के हैं. यदि आप बंगाल में हैं, तो हमारे परिवार के सदस्य हैं. मेरी उद्योग में यात्रा शुरू हुई है और आने वाले वर्षों में 1.5 करोड़ रोजगार का सृजन करेंगे. उन्होंने इस अवसर पर ममता बनर्जी ( Mamata Banerjee) ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ से आग्रह किया कि वह गवर्नर कांफ्रेंस में केंद्र सरकार से राज्य को सहयोग करने की बात करें और केंद्रीय एजेंसियों (Central Agencies) के जरिए उद्योगपतियों को परेशान नहीं किया जाए.

ममता बनर्जी ने कहा कि वाम मोर्चा के शासन में पश्चिम बंगाल ने हर साल 75 लाख मानव कार्य दिवस गंवाए, अब यह संख्या शून्य है. राज्य में कृषि के साथ-साथ उद्योगों के विकास पर जोर दिया जा रहा है. राज्य सरकार ने उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए नीति बनाई है.

पश्चिम बंगाल दक्षिण-पूर्वी एशिया का है प्रवेश द्वार

ममता बनर्ज ने कहा कि पश्चिम बंगाल पूर्वी और पूर्वोत्तर भारत के अलावा पड़ोसी बांग्लादेश, भूटान और नेपाल के साथ-साथ दक्षिण-पूर्वी एशिया का प्रवेश द्वार है. आप बंगाल में निवेश करते हैं, तो आप बांग्लादेश, भूटान और नेपाल असानी से पहुंच जाते हैं, जिस तरह से उद्योगपतियों ने समिट में हिस्सा लिया है. उन्हें आशा है कि बंगाल की अब तक सामाजिक क्षेत्र में यात्रा शुरू हुई थी, लेकिन अब उद्योग के क्षेत्र में भी यात्रा शुरू हो गयी है.

बंगाल की अर्थव्यवस्था खपत पर है आधारित

ममता बनर्जी ने कहा कि पश्चिम बंगाल की अर्थव्यवस्था खपत पर आधारित है, केवल दुर्गा पूजा उत्सव के दौरान ही लोग 30,000-40,000 करोड़ रुपये खर्च करते हैं. यूनेस्कों ने पश्चिम बंगाल की दुर्गा पूजा को हेरिटेज घोषित किया है. बंगाल केवल सामाजिक योजनाओं के मामले में ही नहीं, बल्कि उद्योग और संस्कृति के मामले में भी अव्वल है. कोरोना महामारी के दौरान जब राष्ट्रीय स्तर पर विकास की दर में गिरावट हो रही थी. बंगाल में विकास दर में वृद्धि दर्ज की गई थी. बंगाल पूर्वी फ्रेट कॉरिडोर के साथ जंगलमहल में 72,000 करोड़ रुपये का औद्योगिक क्षेत्र स्थापित करेगा.

फिलहाल खबर अपडेट की जा रही है..

Similar Posts