Azamgarh Bye Election: ‘अखिलेश ने खुद अपने उम्मीदवार धर्मेंद्र के साथ किया खेल, तभी तो नहीं आए’, निरहुआ ने आजमगढ़ सीट पर जीत का किया दावा

Nirahua

उत्तर प्रदेश में आजमगढ़ और रामपुर लोकसभा सीटों पर उपचुनाव (Azamgarh Bye Election) के लिए गुरुवार को मतदान हुए. मतदान के साथ ही 19 प्रत्याशियों की किस्मत ईवीएम में बंद हो गई. अब 26 जून यानी रविवार को मतगणना होगी. इस बीच आजमगढ़ की सीट से बीजेपी उम्मीदवार भोजपुरी स्टार दिनेश लाल यादव निरहुआ ने अपनी जीत का दावा किया है. उन्होंने कहा कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने खुद अपने प्रत्याशी धर्मेंद्र यादव के साथ खेल कर दिया है. अखिलेश को आजमगढ़ सीट से जरा भी उम्मीद होती तो वो यहां जरूर आते, लेकिन नहीं आए. क्योंकि उन्हें पता है कि गढ़ टूट गया है और हार तय है.

निरहुआ ने मीडिया से बात करते हुए आगे कहा कि उनको (अखिलेश) और उनके पिताजी (मुलायम सिंह यादव) को यहां से बार-बार मौका मिला, लेकिन कुछ किया नहीं. इसलिए अब लोग बीजेपी को सपोर्ट करेंगे. आपको बता दें कि आजमगढ़ की सीट से पहले सपा नेता और यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव सांसद थे, लेकिन विधानसभा चुनाव में जीत के बाद उन्होंने ये सीट खाली कर दी थी. इस उपचुनाव में सपा ने धर्मेंद्र यादव को अपना उम्मीदवार बनाकर मैदान में उतारा है.

‘पहले चाचा को साइड लाइन किया अब धर्मेंद्र को’

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, निरहुआ ने अपने एक गाने का जिक्र करते हुए कहा कि धर्मेंद्र यादव को फरार नहीं, लाचार करेंगे. अखिलेश यही कर रहे हैं और इसलिए उन्हें आजमगढ़ के चुनावी रण में उतारा गया है. पहले चाचा शिवपाल को साइड लाइन किया, फिर आजमगढ़ में कुछ न करने पर धर्मेंद्र यादव को भेजकर साइड लाइन कर दिया. निरहुआ ने कहा कि वो (अखिलेश) अपने आगे न तो भाई को चाहते हैं, न चाचा को और न ही पार्टी के किसी अन्य नेता को.’

Similar Posts