Air India कर्मचारियों के आए अच्छे दिन, पहले मेडिकल इंश्योरेंस का तोहफा अब कंपनी के शेयर होल्डर्स बनने का मिलेगा मौका

Air India Employees ESOP facility

टाटा ग्रुप (Tata Group) के हाथों में जाते ही एयर इंडिया कर्मचारियों (Air India) के अच्छे दिन की शुरुआत हो चुकी है. पिछले दिनों एंप्लॉयी को बेहतर मेडिकल सुविधा देने के लिए ग्रुप मेडिकल इंश्योरेंस का ऐलान किया गया था. इसे 15 मई 2022 से लागू किया जाएगा. अब एयरलाइन के कर्मचारियों को शेयर होल्डर बनने का मौका दिया जाएगा. एयरलाइन की तरफ से एंप्लॉयी को स्टॉक ऑप्शन (ESOP) दिया जाएगा जिससे वे कंपनी के शेयर होल्डर बन जाएंगे और उनके प्रदर्शन में सुधार आएगा. टाटा ग्रुप की यह दूसरी कंपनी होगी जिसमे ESOP की सुविधा उपलब्ध होगी. साल 2018 में पहली बार टाटा मोटर्स ने अपने एंप्लॉयी के लिए स्टॉक ऑप्शन की सुविधा दी थी.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, एंप्लॉयी के प्रदर्शन में सुधार लाने के लिए परफॉर्मेंस इंडिकेटर्स भी लागू किए जाएंगे. बता दें कि स्टॉक ऑप्शन से ठीक पहले यह खबर आई थी एयर इंडिया के एंप्लॉयी की सैलरी में कोरोना के कारण जो कटौती की गई थी उसे वापस किया जा रहा है. धीरे-धीरे उनकी सैलरी प्री-पैनडेमिक स्तर पर लाई जा रही है.

ESOP क्यों लेकर आती है कंपनी?

कंपनियां अपने अच्छे एंप्लॉयी को बरकरार रखने के लिए स्टॉक ऑप्शन लेकर आती है. इसमें एंप्लॉयी को कंपनी का पार्टनर बना दिया जाता है. इससे एंप्लॉयी के प्रदर्शन में भी सुधार आता है. स्टॉक ऑप्शन का लॉन्ग टर्म में बहुत फायदा होता है. कंपनी का लक्ष्य भी लंबी अवधि का होता है.

यह खबर अभी लिखी जा रही है…

Similar Posts