Astro Travel Tips : अगर अपनी यात्रा को सफल बनाना चाहते हैं तो घर से निकलते समय जरूर करें ये उपाय

Moving (1)

जीवन में अक्सर हमें किसी न किसी काम के लिए यात्राएं करनी पड़ती हैं. कई बार ये यात्राएं बहुत ही सुखद और सफल साबित होती हैं, तो वहीं कई बार हमें मार्ग में आने वाली कई बड़ी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है और तमाम कोशिशों के बावजूद हमारे काम नहीं बनते हैं. हमारे यहां यात्रा पर निकलते समय जहां कुछ शकुन और अपशकुन बताए गये हैं, वहीं कुछ ऐसे नियम और उपाय हैं, जिन्हें करने पर आपकी यात्रा बगैर किसी बाधा के पूरी होती हैं और उसके सुखद परिणाम भी प्राप्त होते हैं. किसी महत्वपूर्ण कार्य में सफलता पाने के लिए घर से निकलते समय किये जाने वाले ये उपाय काफी काम के हैं. आइए यात्रा को सुखद और सफल बनाने वाले जरूरी नियम जानते हैं.

  1. यदि आप अपनी यात्रा को शुभ और सफल बनाना चाहते हैं तो घर से निकलने से पहले अपने आराध्य देवता को धूप-दीप आदि दिखाएं और यात्रा को मंगलमय बनाने के लिए प्रार्थना करें. इसके बाद सभी विघ्नों को हरने वाले भगवान गणेश या फिर अपने आराध्य देव का नाम लेकर घर से निकलें.
  2. यात्रा के लिए घर से निकलते समय स्वर का विशेष ध्यान रखें. घर से निकलते समय जो स्वर चल रहा हो, आप सबसे पहले उसी पैर को बाहर निकालें.
  3. घर से बाहर निकलते समय हमेशा शुभ एवं मंगलदायक शब्दों का प्रयोग करें. किसी के विवाद या क्रोध न करें और न ही किसी को अपशब्द कहें.
  4. यात्रा के निकलते समय अपने से बड़ों का आशीर्वाद लेकर निकलें. मान्यता है कि बड़ों के आशीर्वाद और मंगलकामना से रास्ते में आने वाली बाधाएं दूर हो जाती हैं.
  5. यात्रा से पहले शकुन-अपशकुन का विशेष ख्याल रखना चाहिए. जैसे यदि आप घर से यात्रा के लिए निकल रहे हों तो औ रास्ते में सामने से कोई छींक दे तो थोड़ी देर ठहर कर तब यात्रा के लिए निकलना चाहिए.
  6. यदि यात्रा के लिए निकलते समय रास्ते में यदि मन्दिर, पवित्र पेड़, गाय, सांड़, माता-पिता, दादा-दादी या गुरुजी मिलें तो उन्हें नमस्कार करें एवं उन्हें दाहिने छोड़ते हुये, आगे बढ़ें. ऐसा करने पर यात्रा शुभ और सफल होती है.
  7. किसी भी यात्रा को करते समय दिशाशूल का विशेष रूप से विचार करना चाहिए. जैसे सोमवार और शनिवार को पूर्व में, मंगल व बुधवार को उत्तर दिशा में, रविवार और शुक्रवार को पश्चिम में दिशा शूल माना है. इसी प्रकार बृहस्पतिवार को दक्षिण दिशा में दिशा शूल होता है. मान्यता है कि जिस दिशा में दिशाशूल होता उस दिशा में यात्रा करने पर तमाम तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है.

ये भी पढ़ें — Mirror Vastu rules : घर में आईना लगाने से पहले जरूर जान लें इसका वास्तु नियम

(यहां दी गई जानकारियां धार्मिक आस्था और लोक मान्यताओं पर आधारित हैं, इसका कोई भी वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है. इसे सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर यहां प्रस्तुत किया गया है.)