15 प्रतिशत तक बढ़ जाएंगी मकान की कीमतें, यहां समझिए.. आखिर क्यों महंगा हो रहा है सपनों का घर

Flats

महंगाई का तांडव झेल रही देश की आम जनता के लिए एक और बुरी खबर आ रही है. अगर आप आने वाले कुछ दिनों में अपने परिवार के लिए नया घर बनवाने या नया घर लेने की प्लानिंग कर रहे हैं तो आपको जबरदस्त झटका लगने वाला है. जी हां, जहां एक तरफ घर बनाने में इस्तेमाल होने वाली चीजों की कीमतें लगातार बढ़ रही हैं वहीं दूसरी ओर होम लोन (Home Loan) भी महंगा होने वाला है. इसके अलावा और भी ऐसे कुछ वजहें हैं, जिनकी वजह से घर खरीदना महंगा हो जाएगा. रियल एस्टेट डेवलपर्स संगठन क्रेडाई की मानें तो घर-मकान के दाम में जल्द ही 10 से 15 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी हो सकती है. इसे सीधे शब्दों में समझें तो जिस मकान की कीमत आज 25 लाख रुपये है, कुछ दिनों बाद उसी मकान की कीमत 27.50 लाख से 28.75 लाख रुपये तक हो जाएगी.

मकान खरीदना महंगा क्यों हो रहा है

घर-मकान बनवाने में जिन सामान का इस्तेमाल होता है, उन सभी की कीमतें लगातार तेजी से बढ़ रही हैं. इनमें स्टील, सीमेंट, ईंट और लेबर प्रमुख हैं. इसके अलावा देश के प्रमुख बैंक भी होम लोन की कीमतें बढ़ाने वाली हैं. जिसके बाद आपको होम लोन पर ज्यादा ब्याज देना होगा. इसका सीधा मतलब ये हुआ कि होम लोन चुकाने के लिए जाने वाली ईएमआई बढ़ जाएगी. इतना ही नहीं, बीते कुछ समय में धड़ल्ले से घर-मकानों की बिक्री हुई है. जिसकी वजह से जो मकान अनसोल्ड थे, उनकी संख्या में काफी बड़ी गिरावट आई है. यहां समझने वाली एक बड़ी बात ये है कि मकानों की सप्लाई के मुकाबले डिमांड बढ़ गई है और किसी भी चीज की कीमत बढ़ने के पीछे ये एक बहुत बड़ी वजह होती है.

हाउसिंग प्रोजेक्ट्स पर पड़ रहा महंगाई का बुरा असर

क्रेडाई ने अनुमान लगाया है कि मकान की कीमतों में फिलहाल 5 से 8 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी हुई है और इसमें अभी 5 से 7 प्रतिशत की बढ़ोतरी और होनी बाकी है. देशभर में ऐसे तमाम हाउसिंग प्रोजेक्ट्स हैं, जो महंगाई की मार झेल रहे हैं. महंगे बिल्डिंग मैटेरियल की वजह से कई प्रोजेक्ट्स या तो बहुत लेट हो रहे हैं या रुक गए हैं. बिल्डर्स, सरकार से लगातार महंगाई कम करने की मांग कर रहे हैं. बिल्डर्स का कहना है कि अगर महंगाई काबू में नहीं आई तो प्रोजेक्ट्स अधूरे रह जाएंगे. इन सभी वजहों को देखें तो इससे मकानों की सप्लाई बुरी तरह से प्रभावित हो रही है जबकि डिमांड लगातार बढ़ती जा रही है. इसका सीधा असर घर खरीदने वाले ग्राहकों पर पड़ेगा और उन्हें पहले के मुकाबले काफी ज्यादा कीमत चुकानी होगी.

दोगुना हुआ स्टील का भाव

घर-मकान बनाने में बड़े पैमाने पर सीमेंट और स्टील का इस्तेमाल होता है. सीमेंट के भाव देखें तो बीते कुछ महीनों में इसकी कीमतें 100 रुपये तक बढ़ गए हैं. वहीं दूसरी ओर, स्टील के दामों में भी जबरदस्त उछाल देखने को मिला है. 45 हजार रुपये प्रति मिट्रिक टन में मिलने वाला स्टील अब 90 हजार रुपये तक का हो गया है.

Similar Posts